Breaking News

मऊ में 20 हजार रुपये रिश्वत लेते VDO गिरफ्तार, बजट पास कराने के लिए मांगे थे रुपये

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. मऊ जिले में रिश्वत लेना ग्राम विकास अधिकारी को महंगा पड़ गया। एंटी करप्शन की टीम ने ग्राम प्रधान पति से रिश्वत लेते ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह को विकास भवन के बाहर से गिरफ्तार कर लिया।

मामला मऊ के रतनपुरा विकास खंड के इटौरा ग्राम का है। जहां ग्राम में कम्पोजिट विद्यालय में कायाकल्प योजना के माध्यम से टाइल्स लगवाया गया था। उसी का बजट पास कराने के लिए ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह द्वारा ग्राम प्रधान से 20 हजार रुपया रिश्वत मांगा गया था। बार-बार सिफारिश करने के बावजूद भी बजट नहीं पास हो पाया तो ग्राम प्रधान ने जिले के अधिकारियों से भी शिकायत की, लेकिन कोई हल नहीं निकला।

प्रधान ने की थी शिकायत

ग्राम प्रधान पति ने अश्वनी सिंह गोरखपुर एंटी करप्शन टीम से मामले की शिकायत की। इसके बाद एंटी करप्शन की टीम मऊ जनपद पहुंची और जिलाधिकारी से मिलकर के टीम गठित की। टीम ने प्लान के तहत रिश्वत देने के लिए ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह को विकास भवन के बाहर बुलाया और यहीं पर रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ लिया।

घुस मांगने की करें शिकायत

एंटी करप्शन टीम के अधिकारियों ने कहा अगर किसी व्यक्ति से कोई रिश्वतकी मांग करता है तो वह व्यक्ति सीधे एंटी करप्शन की टीम से संपर्क कर सकता है। एंटी करप्शन टीम द्वारा भ्रष्टाचार के खिलाफ त्वरित कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। सीओ सिटी धनंजय मिश्रा ने बताया कि एंटी करप्शन की टीम ने इटौरा गांव के ग्राम विकास अधिकारी अमरेश सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। कोतवाली थाने में हिरासत में रखा गया है। विधिक कार्रवाई की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं