Breaking News

अब्बास अंसारी का मूछों पर ताव देना पड़ा भारी, मुख्तार अंसारी की 7.51 करोड़ की संपत्ति कुर्की के आदेश

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. मऊ कोर्ट में बड़े दिनों से फरार चल रहे माफिया मुख्तार अंसारी के बड़े बेटे विधायक अब्बास अंसारी को बड़े आराम से पुलिस की आंखों में धूल झोंक कर अदालत में प्रस्तुत होकर जमानत ले लिया। उसके बाद विधायक अब्बास अंसारी द्वारा कोर्ट से बाहर निकलते हुए मूछों पर ताव देते हुए अपने विजयी होने का एहसास कराना जिला प्रशासन को शायद नागवार गुजर गया।

कुंभकरण की नींद में सोया हुआ पुलिस और जिला प्रशासन पागलों की तरह अंसारी परिवार के सभी जिले में खरीदे गए राजस्व संबंधित कागजातों का अवलोकन करते हुए उनके जहांगीराबाद में स्थित मुख्तार अंसारी द्वारा अपनी मां के नाम पर अपराध के द्वारा अर्जित धन से खरीदे गए जमीन को आज जिला प्रशासन ने कुर्क करने का आदेश दे दिया, जिसके बाद तो पूरे जिले में हड़कंप मच गया है।

गैंगस्टर एक्ट के तहत की जाए कार्रवाई

जिलाधिकारी मऊ ने अरुण कुमार ने मुख्तार अंसारी के बेटों की 7 करोड़ 51 लाख 50 हजार की संपत्ति को कुर्क करने के दिये आदेश। जनपद में अवैध तरीके से अर्जित संपत्तियों का चिन्हीकरण कर संबंधितो के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है।

मां के नाम पर ली थी संपत्ति

मुख्तार अंसारी द्वारा अपने नाम मौजा जहांगीराबाद,परगना व तहसील सदर, जनपद मऊ में आराजी नंबर 168, रकबा 45.45 एयर व आराजी नंबर 458, 169/1 (कुल 2 गाटा) रकबा 286 एयर व मौजा जहांगीराबाद में ही खेवट नंबर 1/1 भूखंड संख्या 295 रखवा 0.345 हेक्टेयर का 1/3 यानि 0.115 हेक्टेयर जमीन। अभियुक्त माफिया अंसारी द्वारा अपराध कर अवैध रूप से अर्जित धन से अपनी माता राबिया बेगम के नाम से क्रय किया गया है, जो मुख्तार अंसारी की मां मृत्यु के पश्चात क्रमशः प्रथम व द्वितीय आराजी नंबर में दर्ज वसीयतनामें के अनुसार अब्बास अंसारी व उमर अंसारी के नाम पर हो गया है।

कोई टिप्पणी नहीं