Breaking News

मऊ में मिठाई दुकानों पर की गई छापेमारी, कई दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर हुए फरार

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग मऊ द्वारा मधुबन तहसील क्षेत्र के दर्जनों मिठाई की दुकानों पर अचानक छापेमारी की गई जिससे दुकानदारों में हड़कंप की स्थिति बनी रही। छापेमारी की सूचना पर कई दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर फरार नजर आए। आगामी दीपावली, गोवर्धन पूजा एंव भैया दूज पर्व के मद्देनज़र मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी मऊ आरके दीक्षित की अगुवाई में चले इस अभियान में तहसील क्षेत्र के सात अलग-अलग दुकानों से संदेह के आधार पर नमूने लिए गए। अब इन एकत्रित किए गए नमूनों को लखनऊ प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा जाएगा जिसके बाद आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

इन दुकानों से लिए गए नमूने

खाद सुरक्षा एवं औषधि विभाग मऊ द्वारा की गई इस कार्रवाई के दौरान नंदौर चट्टी स्थित पिंटू गुप्ता की दुकान से बूंदी के लड्डू, शक्ति कुमार के दुकान से पेड़ा, मधुबन बाजार स्थित सुनीता गुप्ता के दुकान से पेड़ा, भोला के दुकान से बर्फी, सूरजपुर स्थित जयनाथ गुप्ता की दुकान से बर्फी, बेलौली स्थित अनिल सिंह पटेल की दुकान से खोया एंव बड़ी रहजनिया स्थित रामसेवक पाल की दुकान से छेना का नमूना लिया गया।

मिलावट पाए जाने पर होगी कार्रवाई

मुख्य खाद सुरक्षा अधिकारी आरके दीक्षित ने बताया कि विभाग द्वारा यह कार्यवाही आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश एवं जिला अधिकारी मऊ के निर्देश पर किया गया है। इस दौरान 2 दर्जन से अधिक दुकानों पर जांच की गई वहीं मिलावट के संदेह के आधार पर कुल 7 दुकानों से नमूने लिए गए हैं। इन दुकानों से संग्रहित नमूनों को जांच के लिए खाद्य विश्लेषक प्रयोगशाला लखनऊ भेजा जाएगा। मिलावट की पुष्टि होने पर संबंधित दुकानदारों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के विभिन्न धाराओं के अंतर्गत विधिक कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

जांच टीम में खाद सुरक्षा अधिकारी दिनेश कुमार राय, बिंदु पांडे, सत्य राम यादव, पंकज कुमार यादव, जय हिंद राम आदि शामिल रहे।

कोई टिप्पणी नहीं