Breaking News

पिता की मौत के बाद चाचा ने हड़प ली जमीन, परिवार संग आत्मदाह की दी चेतावनी

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. मऊ के मधुबन तहसील परिसर में सोमवार को एक व्यक्ति परिवार सहित अमरण अनशन पर बैठ गया। पीड़ित का आरोप था कि उसके पैतृक जमीन पर उसके चाचा द्वारा कब्जा कर लिया गया है। तहसील पर कई बार की शिकायत के बाद भी अब तक इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की गई। अपनी पत्नी और दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ अमरण अनशन पर बैठे पीड़ित द्वारा उसकी मांग न माने जाने की सूरत में 3 दिन बाद परिवार सहित आत्मदाह करने की भी चेतावनी दी गई है।

पिता की मौत के बाद चाचा ने हड़प ली जमीन

मधुबन तहसील क्षेत्र के मीरपुर दरियाबाद निवासी प्रताप शर्मा का आरोप है कि सन 2005 में उसके पिता के मौत के बाद सन 2006 में उसके पिता के हिस्से की जायदाद का विरासत उसके नाम हो गया था। बाद में उसके चाचा सोमर शर्मा पुत्र अचरज शर्मा द्वारा धोखाधड़ी से उस वरासत को खारिज करा दिया गया।

पीड़ित का कहना था कि जब उसे इस प्रकरण की जानकारी हुई तो उसने इस संबंध में तहसील में प्रार्थना पत्र देकर मामले की जांच की गुहार लगाई कि आखिर किस आधार पर उसके वरासत को निरस्त किया गया है, मगर अब तक उसे न्याय नहीं मिल पाया है। वर्तमान में वह अपने परिवार सहित किराए के मकान में रह रहा है।

3 दिन बाद परिवार सहित करूंगा आत्मदाह

आमरण अनशन पर बैठे प्रताप शर्मा का कहना था कि वह यहां अगले 3 दिनों तक आमरण अनशन पर बैठेगा। यदि उसे फिर भी न्याय नहीं मिला तो फिर वह तीन दिन बाद इसी तहसील परिसर में अपनी पत्नी और दो छोटे बच्चों के साथ आत्मदाह करेगा और इसकी पूरी जिम्मेदारी तहसील प्रशासन की होगी।

पीड़ित को समझाने का प्रयास जारी

प्रताप शर्मा द्वारा अपने परिवार संग अमरण अनशन पर बैठे जाने की सूचना पर एसडीएम मधुबन की अनुपस्थिति में तहसीलदार मधुबन आनंद कनौजिया द्वारा मौके पर अपना प्रतिनिधि भेज कर उसे समझने का प्रयास किया गया। मगर पीड़ित जिद पर अड़ा हुआ है।

वहीं इस संबंध में तहसीलदार मधुबन का कहना था कि मामला न्यायालय में है। पूर्व में पीड़ित द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर वरासत को निरस्त किए जाने की प्रक्रिया चल रही है। पीड़ित को न्यायालय का फैसला आने तक इंतजार करने की सलाह दी गई है।

कोई टिप्पणी नहीं