Breaking News

IT कंपनी की नौकरी छोड़ युवक बेच रहा गधी का दूध, 17 लाख रुपये का मिला ऑर्डर

मुल्क तक न्यूज़ टीम, नई दिल्ली। कर्नाटक के एक व्यक्ति ने गधे के दूध का फार्म खोलने के लिए एक आईटी कंपनी की नौकरी छोड़ दी। बताया जा रहा क‍ि 8 जून को खोले गए फार्म को पहले ही 17 लाख रुपए के ऑर्डर मिल चुके हैं। श्रीनिवास गौड़ा ने बताया क‍ि देश गधों की घटती संख्‍या देखकर उन्‍होंने गधा पालन करने क प्‍लान बनाया। उन्‍होंने कहा क‍ि गधे के दूध का बहुत फायदा होता है और इसी वजह से उन्‍हें दूध के लिए ऑर्डर भी मिल रहे हैं।

देश का दूसरा गधा फार्म!

42 वर्षीय श्रीनिवास गौड़ा ने दक्षिण कन्नड़ जिले के एक गांव में गधा फार्म की स्थापना की है। यह कर्नाटक में अपनी तरह का पहला और केरल के एर्नाकुलम जिले में स्थापित होने के बाद देश में दूसरा फार्म माना जा रहा।

फार्म में अभी 20 गधे

बीए ग्रेजुएट गौड़ा ने 2020 तक एक सॉफ्टवेयर कंपनी के साथ काम किया। इसके बाद उन्‍होंने लॉकडाउन के समय इरा गांव में लगभग 2.3 एकड़ के भूखंड पर इसिरी फार्म बनाया। शुरू में उन्‍होंने खरगोश, कड़कनाथ मुर्गियां और बकरियां पालीं। हाल ही में 20 गधों को शामिल किया।

गधों की घटती संख्या देख आया ख्‍याल

गौड़ा के अनुसार यह विचार उन्हें पसंद आया क्योंकि गधों की प्रजातियों की संख्या घट रही है क्योंकि धोबी अब उनका उपयोग नहीं कर रहे हैं। शुरू में जब गधे के फॉर्म का विचार आया तो कई लोग इससे असहमत थे। हालांकि, उन्होंने दावा किया कि गधे का दूध स्वादिष्ट होता है, इसमें औषधीय गुण होते हैं और यह महंगा होता है।

30 मिलीलीटर दूध के पैकेट की कीमत 150 रुपए

गौड़ा ने कहा दूध पैकेट में उपलब्ध होगा और 30 मिलीलीटर दूध के पैकेट की कीमत 150 रुपए होगी। पैकेट मॉल, दुकानों और सुपरमार्केट में उपलब्ध होंगे। गौड़ा ने यह भी दावा किया कि उन्हें पहले ही 17 लाख रुपए के ऑर्डर मिल चुके हैं.

कोई टिप्पणी नहीं