Breaking News

पालतू कुत्ते ने पेश की वफादारी की मिसाल, सीने पर गोली खाकर बचाई मालिक की जान; इलाज के दौरान तोड़ा दम

मुल्क तक न्यूज़ टीम, सुलतानपुर. इंसान से ज्यादा कुत्ता वफादार होता है, इस कहावत काे कोतवाली देहात के विकवाजितपुर गांव में एक पालतू कुत्ते ने सही साबित कर दिखाया है। मालिक के ऊपर चलाई गई गोली को सामने आकर कुत्ते ने अपने सीने परले लिया। खुद तो जान दे दी, लेकिन अपने मालिक को खरोंच तक नहीं आने दी। विकवाजितपुर गांव निवासी विशाल श्रीवास्तव गांव से बाहर बाग में दस साल से गोशाला चलाते हैं।

पशु सेवा के साथ गोवंशों के गाेबर से दीया व अन्य सामान बनाकर वह बेचते भी हैं। उनके बाग के पीछे ही अंबेडकरनगर निवासी अनिल वर्मा ने जमीन लेकर रामबरन महिला पीजी कालेज बनवाया है। रविवार को विशाल पशुशाला कक्ष के बगल पुआल रखने के लिए टिनशेड का निर्माण कर रहे थे। इसी दौरान कालेज प्रबंधक अनिल मौके पर पहुंचे तथा टीनशेड रखने से मना करने लगे। इस बात पर दोनों के बीच कहासुनी शुरू हो गई। अनिल ने मामले की जानकारी डायल 112 को दी।

पुलिस के पहुंचने पर विशाल ने निर्माण रोक दिया। पुलिस के जाने के बाद फिर से दोनों में विवाद हो गया। बात बढ़ने पर प्रबंधक अनिल ने लाइसेंसी पिस्टल से विशाल पर फायरिंग कर दी। गोली चलते ही बगल में खड़ा पालतू कुत्ता विशाल को बचाने के लिए सामने कूद गया। गोली कुत्ते को लग गई और वहीं गिरकर तड़पने लगा। आसपास माैजूद लोगों ने अनिल को दौड़ा लिया, लेकिन वह भाग निकला।

पड़ोसियों की मदद से विशाल कुत्ते को लेकर गाेलाघाट स्थित जिला पशु चिकित्सालय पहुंचे। डाक्टरों द्वारा कुत्ते का एक्सरे कराया गया। इलाज के दौरान ज्यादा खून बह जाने से आखिरकार देर शाम वफादार कुत्ते ने दम तोड़ दिया। क्षेत्राधिकारी सतीश चंद्र शुक्ल ने बताया कि ग्रामीणों से मामले की जानकारी मिली है। पुलिस को मौके पर भेजा गया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्जकर विधिक कार्रवाई की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं