Breaking News

परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के इस नए नियम से परेशान हुए लोग, RTO ने लगाई शर्त

मुल्क तक न्यूज़ टीम, लखनऊ. स्‍थाई ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम के तहत अब आपको उसी जिले से आवेदन करना होगा जहां से आपका आधार बना हुआ है। आधार प्रमाणीकरण के जरिए घर बैठे ऑनलाइन लर्निंग डीएल बनवाने की व्यवस्था के बाद स्थाई डीएल के लिए इस नई शर्त ने आवेदकों को परेशानी में डाल दिया है। अब लर्निंग कहीं से भी बन सकेगा, लेकिन स्थाई डीएल के लिए आवेदक को अपने आधार में दर्ज जिले में ही जाना होगा। हालांकि एक जून से पहले लर्निंग डीएल बनवा चुके लोगों पर यह नियम लागू नहीं होगा।

एआरटीओ प्रशासन अखिलेश द्विवेदी ने बताया कि नई व्यवस्था में लर्निंग लाइसेंस कहीं से जारी हो सकता है, लेकिन स्थाई लाइसेंस के लिए आधार के पते वाले जिले के आरटीओ दफ्तर जाना होगा। यह व्यवस्था मुख्यालय ने एक जून से लागू कर दी है। एक जून को लर्निंग लाइसेंस लेने वाले लोगों को एक माह बाद अपने आधार के पते वाले जिले में ही स्थायी के लिए आवेदन करना होगा। मसलन, गोरखपुर से बने आधार के जरिए लखनऊ में डीएल नहीं बनवा सकेंगे, चाहे आप सरकारी नौकरी में ही क्यों ना हो।

रोज 50 से ज्यादा लोग विकल्प पूछ रहे

स्थाई डीएल के लिए पते के तौर पर दूसरे विकल्प खत्म होने से आवेदकों की दिक्कत बढ़ गई है। ट्रांसपोर्टनगर आरटीओ कार्यालय के लाइसेंस अधिकारी ने बताया कि आधार के अलावा पते के प्रमाण के तौर पर संस्थान का आईडी कार्ड, बीमा रसीद मान्य होती थी। जब से आधार प्रमाणीकरण के जरिए लर्निंग डीएल आवेदन व्यवस्था शुरू हुई है, आवेदकों के सामने पते के प्रमाण के तौर पर दूसरा विकल्प पूछने रोज 50 से ज्यादा लोग आ रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं