Breaking News

फिलीपींस दूतावास की पहल पर मऊ में अपने बच्‍चों को छोड़कर महिला अपने देश रवाना

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. पूराघाट में फिलीपींस निवासी महिला अपने वतन जाने के लिए मंगलवार को देवर संग थाने में लिखा-पढ़ी के बाद दिल्ली के लिए रवाना हो गई। दिल्ली में कानूनी प्रकिया के बाद वह पहले कुवैत जाएगी। कुवैत से वह अपने देश के लिए रवाना हो जाएगी। पुलिस ने महिला को उसके देश भेजने के बाद राहत की सांस लिया है।

फिलीपींस की महिला मारिया एला सलदुआ कुवैत कमाने गयी थी। यहां उसकी मुलाकात कोपागंज के गाढा निवासी फैयाज हुसैन हुई। चार वर्ष पूर्व दोनों ने रजामंदी से शादी कर लिया। उनके दो पुत्र भी हुए। दोनों खुशी पूर्वक जीवन निर्वाह कर रहे थे। एक वर्ष पूर्व फैयाज विदेशी पत्नी के साथ अपने घर आया। कुछ माह रहने के बाद फैयाज पुनः कमाने के लिए कुवैत चला गया। इसी बीच ससुराल में विदेशी महिला का मनमुटाव होने लगा। फिलीपींस के राजदूत के यहां से संदेश आने के बाद पता चला कि महिला को ससुरालीजन प्रताड़ित कर रहे हैं।

वहीं जानकारी होने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच महिला सहित परिजनों को थाने लायी। फिर समझा-बुझाकर घर भेज दिया। कुछ दिन बाद 30 मई को महिला परिजनों से विवाद कर घर से बाहर कहीं चली गयी। सूचना मिलते ही परिजन और महिला पुलिस उसको खोजकर थाने लायी। विदेशी महिला परिजनों के साथ नहीं रहने की जिद पर अड़ गयी। थानाध्यक्ष हरिराम मौर्य ने उच्चाधिकारियों को सूचित किया। पुलिस अधीक्षक सुशील घुले के आदेश पर दो महिला पुलिकर्मियों की निगहबानी में रखा गया।

नौ दिन बाद महिला को विदेश जाने का कागजात सही कराकर प्रशासन मंगलवार की सुबह महिला के देवर अब्बास हुसैन के साथ दिल्ली होते हुए कुवैत भेजने के लिए प्रशासन ने भेज दिया। हालांकि, महिला अपने दोनों बच्चों को साथ नहीं ले गयी। थानाध्यक्ष हरिराम मौर्य ने कहा कि महिला को उसके देवर के साथ दिल्ली होते कुवैत भेज दिया गया है फिर वहां से वह अपने घर फिलीपींस चली जायेगी।

कोई टिप्पणी नहीं