Breaking News

मऊ में कलयुगी बेटे ने पिता को लाठी डंडे से पीटा, मां को घर में बंद किया

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. मऊ में एक कलयुगी बेटे ने अपने पिता को रास्ते में रोककर जमकर पीटा, जिसमें वह बुरी तरह घायल हो गया। पिता को पीटने के बाद घर पहुंचा और मां को धमकाते हुए उसे घर में बंद कर दिया। फिलहाल, पुलिस दरवाजे पर बैठी है। आरोपी बेटे की तलाश जारी है। पिता थाने जा रहा था।

ममाला मऊ के नसोपुर गांव का है, यहां के रहने वाले नंदकिशोर तिवारी के तीन बेटे हैं। आरोपी बेटा सुशील 32 साल पहले अलग हो चुका है। अब वह चाहता है कि पिता सारी संपत्ति उसके नाम पर कर दें। इसके लिए वह आए दिन मारपीट करता है। वह रोज सुबह गाली-गलौज करता है।

पिता को मरा समझकर छोड़ा

गाली-गलौच से परेशान होकर पिता ने आज पुलिस बुलाया दिया। पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को थाने बुलाकर चली गई। इस बात से नाराज होकर बड़े बेटे ने थाने के लिए जा रहे पिता को लाठी लंडे से पीटा। मरा समझकर छोड़ कर घर जाता है और मां को धमकाने लगता है।

वह कहता है कि अपने पति को समझाओ की मेरे नाम पर अपनी संपत्ति कर दें। नहीं तो जिंदा गाड़ दूंगा। इसके बाद जब मां विरोध करती है, तो उसे घर में ताले में बंद कर दिया। नंद किशोर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस आरोपी को ढूंढ रही है। वहीं दूसरी तरफ अपने ही घर बुजुर्ग बंद है और पुलिस ताले को तोड़ने के लिए अधिकारियों के आदेश का इंतजार कर रही है।

घर के बाहर बैठकर इंतजार कर रही पुलिस

घायल व पीड़ित नंदकिशोर तिवारी के छोटे पुत्र चंद्र प्रकाश तिवारी ने बताया कि इस घटना से संबंधित तहरीर थानाध्यक्ष सरायलखंसी को लिखित रूप से दे दी गई है। फिलहाल अभी भी आरोपित पुत्र सुशील कुमार तिवारी पुलिस की पकड़ से बाहर है। ताला तुड़वाने या खुलवाने के लिए अधिकारियों के निर्देश का इंतजार है। दरअसल, सुशील के बड़े पिता की कोई संतान नहीं थी। उनको डरा धमकाकर जमीन को हड़प ली। अब पिता को डरा धमका रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं