Breaking News

डॉन मुख्तार अंसारी की मऊ कोर्ट में हुई वीडियो कान्फ्रेसिग से पेशी

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. माफ‍िया डॉन मुख्‍तार अंसारी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। बांदा जेल में मिल रही सुविधाओं में कटौती के बाद अब शुक्रवार को मऊ जिले में अपर जनपद एवं सत्र न्यायाधीश कोर्ट नं 3/ एमपी एमएलए की विशेष कोर्ट में मुख्‍तार की पेशी हुई। 

एमपी एमएलए की विशेष कोर्ट दिनेश चौरसिया ने पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी की वीडियो कान्फ्रेंसिग के माध्यम से थाना दक्षिण टोला के राम सिह मौर्या व सिपाही सतीश कुमार दोहरे हत्याकाण्ड व फर्जी असलहा मामले से सम्बन्धित गैंगस्टर मामलों में वीडियो कान्फ्रेंसिग द्वारा बांदा जेल से शुक्रवार को पेशी कराई।

सुनवाई के बाद न्‍यायालय ने इस मामले में अगली पेशी के लिए आगामी 22 जून की तारीख नियत कर दी। बांदा जेल अधीक्षक ने वीडियो कान्फ्रेंसिग से लिंक होने पर सदर विधायक मुख्तार अंसारी को पेश किया। न्यायालय ने इन दोनों ही मामलों में अगली सुनवाई के लिए 22 जून की तारीख नियत करते हुए 12 दिनों के बाद आनलाइन वीडियो कांफ्रेंसिंंग से कराने के लिए बांदा जेल प्रशासन को जानकारी दी है। सुनवाई के दौरान मुख्‍तार और उनके करीबी भी कोर्ट में मौजूद रहे। वहीं परिसर में सुरक्षा कारणों से पुलिस बल की भी तैनाती की गई थी। क्‍योंकि पूर्व में गाजीपुर जिले में गवाहों ने सुरक्षा की मांग की थी। 

इस दौरान मुख्तार अंसारी के अधिवक्ता दारोगा सिंह उपस्थित रहे। ज्ञातव्‍य है कि 12 वर्ष पूर्व ठीकेदार मन्ना सिंह दोहरे हत्याकाण्ड के चश्मदीद गवाह रामसिह मौर्या व उनके गनर सिपाही सतीश कुमार की दक्षिण टोला थाना क्षेत्र में स्थित पुराने आरटीओ आफिस के सामने गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी। इस मामले को लेकर सभी आरोपियो पर गैगेस्टर लगाया गया था, वहीं फर्जी असलहा लाइसेन्स मामले मे भी सभी आरोपियों पर गैंगस्टर लगा था, जिसमे पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी सहित आधा दर्जन लोगों को आरोपी बनाया गया था। इस मामले की लंबे समय से सुनवाई चल रही है।

कोई टिप्पणी नहीं