Breaking News

उपद्रव की चेतावनी के बाद मऊ जिले में हाईअलर्ट

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. सेना के तीनों विंग में अग्नि पथ के तहत सैनिकों की चार वर्ष के लिए नियुक्ति के निर्णय के विरोध में कुछ छात्र संगठनों द्वारा सोमवार को दिल्ली में आंदोलन की घोषणा किए जाने के बाद मऊ जंक्शन पर हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। आंदोलन की संभावना के दौरान अप्रिय घटना की आशंका को देखते हुए आरपीएफ, जीआरपी के जवानों ने अपनी गस्त काफी तेज कर दिया है। 

रविवार को जवानों द्वारा ट्रेनों की गहन चेकिंग किया गया साथ ही साथ स्टेशन पर आने-जाने वाले प्रत्येक यात्रियों की भी गहनता के साथ जांच-पड़ताल किया गया। चेताया गया कि रेल सम्पत्तियों को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई किया जाएगा।

सेना भर्ती प्रक्रिया से जुड़ी अग्निपथ स्कीम के खिलाफ कुछ छात्र संगठनों द्वारा सोमवार को दिल्ली में आंदोलन की चेतावनी जारी किया गया है। छात्रों के आंदोलन को देखते हुए मऊ जंक्शन पर सुरक्षा व्यवस्था काफी बढ़ा दिया गया है। आरपीएफ प्रभारी अजय कुमार सिंह, जीआरपी थानाध्यक्ष दीपक कुमार चौधरी भारी संख्या में रेलवे सुरक्षा बल के जवानों के साथ मऊ जंक्शन पर गस्त किए। 

रेलवे सुरक्षा बल के अधिकारियों व जवानों ने सघनता के साथ सभी प्लेटफार्मों, टिकट काउंटर, आरक्षण काउंटर, वेटिंग रुम की जांच पड़ताल किया। जवानों ने प्लेटफार्म संख्या एक, दो, तीन एवं चार पर पहुंचकर गहनता के साथ जांच-पड़ताल किया। साथ ही साथ प्लेटफार्म पर आने वाली सभी ट्रेनों की भी सघन तलाशी लिया गया। 

वहीं मऊ जंक्शन के मुख्य द्वार पर आने जाने वाले यात्रियों की भी सघन तलाशी के बाद ही प्रवेश प्रदान किया। आरपीएफ प्रभारी अजय कुमार सिंह ने बताया कि छात्रों के उग्र आंदोलन को देखते हुए रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को पूरी तरह से सतर्क कर दिया गया है। अराजकता फैलाने वाले उपद्रवियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई किया जाएगा। उन्होंने सख्ती के साथ चेताया कि किसी भी कीमत पर रेल सम्पत्ति का नुकसान करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। वहीं रेल यात्रियों को यात्रा के दौरान किसी भी तरह की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े, इसका भी विशेष ध्यान रखा जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं