Breaking News

अग्निपथ को लेकर किसानों का आंदोलन, मऊ रेलवे स्टेशन छावनी में तब्दील

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. छात्रों के अग्निपथ आंदोलन के समर्थन में किसान नेताओं द्वारा प्रस्तावित आंदोलन को देखते हुए शुक्रवार को मऊ जंक्शन पुलिस छावनी में तब्दील रहा। सुरक्षा के मद्देनजर मऊ जंक्शन पर रेलवे पुलिस ने मॉक ड्रिल भी किया। मॉक ड्रिल के दौरान जीआरपी, आरपीएफ एवं सिविल पुलिस टीम ने संयुक्त रूप से जंक्शन का दौरा करते हुए सभी आने-जाने वाले यात्रियों की गहन चेकिंग की गई। विशेष तौर पर किसान नेताओं पर रेलवे पुलिस की पैनी नजर रही।

आदर्श श्रेणी के मऊ जंक्शन पर छात्रों के अग्निपथ आंदोलन के समर्थन में किसान नेताओं द्वारा प्रस्तावित आंदोलन को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था के चौकस इंतजाम किए गए थे। शुक्रवार की सुबह 10 बजे ही आरपीएफ प्रभारी अजय सिंह, जीआरपी थानाध्यक्ष दीपक कुमार चौधरी भारी संख्या में रेलवे पुलिस बल के जवानों एवं सिविल पुलिस के साथ माक ड्रिल किए। इस दौरान रेलवे पुलिस के जवानों ने प्लेटफार्म संख्या एक, प्लेटफार्म संख्या दो, प्लेटफार्म संख्या तीन, प्लेटफार्म संख्या चार पर आने-जाने वाले सभी यात्रियों की सघन तलाशी ली।

रेलवे के जवानों की पैनी नजर किसान नेताओं पर विशेष तौर पर रही। आंदोलन के तहत सुरक्षा में कोई चूक न हो इसको लेकर उच्चाधिकारी व जवान काफी मुस्तैद दिखाई दिए। मऊ जंक्शन पर पर आने वाले सभी लोगों पर जवानों ने नजर रखना शुरू कर दिया था। इस दौरान उच्चाधिकारियों ने किसान नेताओं को चेतावनी दी कि कानून हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसी भी कीमत पर रेलवे की सम्पत्तियों का नुकसान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उधर, चंदौली के चकिया में गांधी पार्क में संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य और किसान शुक्रवार को धरने पर बैठ गए। किसानों ने कहा कि सरकार इस योजना से युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। सयुक्त किसान मोर्चा इसका विरोध करेगा। किसान तख्ती पर अग्निपथ योजना वापस लो का नारा लेकर धरने पर बैठे रहे। इसमें मजदूर किसान सभा सहित किसानों के कई संगठन शामिल रहे।

वही, जुमे की नमाज और किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस और प्रशासन सतर्क है। गांधी पार्क के पास काफी संख्या में पुलिस को तैनात किया गया है। इसके साथ ही फैंटम दस्ते से लेकर सीओ और थानाध्यक्ष टीम के साथ चक्रमण कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं