Breaking News

दुल्हन कर रही थी बारात का इंतजार और धमक पड़ी पुलिस, छा गया सन्नाटा

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. मऊ में म्योरपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में शादी के घर में पुलिस के पहुंचने पर खलबली मच गई। बारात का इंतजार कर रही दुल्हन इंतजार ही करती रह गई। परिजनों को भी पुलिस देखकर सांप सूंघ गया। शादी नहीं होने से लाखों का नुकसान होने के साथ ही समाज में किरकिरी भी हुई। सबकुछ इसलिए हुआ क्योंकि परिजन अपनी नाबालिग बेटी की शादी कर रहे थे। 

बताया जाता है कि चौदह वर्ष की किशोरी की शादी परिजन करने जा रहे थे। पूरे गांव को शादी के लिए निमंत्रित किया गया था। गांव वालों लड़की के घर हुजूम लगा था। बारात भी गांव तक पहुंच गई थी। दुल्हन  के रूप में सजी नाबालिग मंडप में अपने दूल्हे के आने और खुद वहां जाने का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान जिले की प्रोबेशन और बाल संरक्षण की गायत्री दुबे, साधना मिश्रा पुलिस के साथ पहुंच गई। टीम ने शादी रुकवा दी। 

बताया कि बाल संरक्षण एवं जनसेवा ट्रस्ट से जुड़ी किसी महिला ने ट्यूटर के जरिये अधिकारियों को नाबालिग की शादी की जानकारी दी थी। इसे लेकर बराती और घराती पक्ष के लोगों ने विरोध किया। कहा कि शिकायतकर्ता को एक दो दिन पहले कार्रवाई के लिए कदम उठाना चाहिए था। शादी के दिन पहुंचने से काफी नुकसान हो गया है।

जिले से आये बाल संरक्षण कार्यालय के लोगों ने साफ कह दिया कि आप दोनों पक्ष कानून की जानकारी रखते हैं। ऐसे में आप लोगों को बाल विवाह तय ही नहीं करना चाहिए था। थानाध्यक्ष अश्वनी कुमार त्रिपाठी ने बताया कि रविवार की रात करीब 12 बजे प्रशासन की टीम भेजी गई थी। बाराती वापस चले गए। जबकि नाबालिग लड़की को बाल संरक्षण की टीम जिले पर ले गई है।

कोई टिप्पणी नहीं