Breaking News

गृह प्रवेश पार्टी में हुई बापूजी की बेइज्जती, आपस में भिड़े अंकुश और वनराज

मुल्क तक न्यूज़ टीम, नई दिल्ली. टीवी सीरियल अनुपमा के आज के एपिसोड में अनुपमा हाथ के छाप की रस्म पूरी करती हैं। वह कहती है कि इस पेपर को वह फ्रेम करेगी। सारा कहती है कि ये मॉर्डन आर्ट की तरह लग रही है। अनुपमा और अनुज सारा की बात से सहमत हो जाते हैं और कहते हैं कि ये उनका कल्चर भी है। अनुज और बरखा ने प्लेट लाते हैं। अनुज इस घर का नाम अनुपमा के नाम पर रखना चाहता है। वहीं, बरखा कपाड़िया के नाम की नेम प्लेट लाती है। 

अनुपमा अनुज से शुक्रिया कहती है कि उसने उसके बारे में सोचा। वहीं, बरखा की भी तारीफ करती है कि उसने परिवार के बारे में सोचा है। लीला अनुपमा से पूछती है कि किसकी नाम की नेम प्लेट वह लगाएगी। अनुपमा कहती है कि वह दोनों के नाम की नेम प्लेट लगाएगी, क्योंकि ऐसा कोई नियम नहीं है कि एक ही होनी चाहिए। हर कोई अनुपमा से इंप्रेस हो जाते हैं। अनुपमा पार्टी शुरू करने के लिए कहती हैं, बरखा गुस्सा हो जाती है। वनराज अंकुश से मिलता है और अंकुश माफी मांगता है। वह वनराज से दोस्ती करने की कोशिश करता है।

हंसमुख से बदतमीजी करेगी बरखा

अंकुश वनराज से पूछता है कि क्या तलाक के बाद दोनों बात करत हैं क्योंकि अमेरिका में तलाक के बाद बात नहीं करते हैं। वनरज कहते हैं कि कपल अलग हो सकते हैं पर पेरेंट्स अलग नहीं हो सकते हैं। अनुज और अनुपमा अंकुश और वनराज को एक साथ देखते हैं। दोनों के दिमाग में चलता है कि कुछ गड़बड़ है। पाखी सारा से कहती है कि उसे घर पसंद आया और वह पारितोष, समर और किंजल के साथ यहां शिफ्ट हो जाएगी। अधिक कहता है कि उसे ऐसा जरूर करना चाहिए। हंसमुख सोडा पीते हैं और उन्हें डकार आ जाती है। इस पर बरखा के गेस्ट उनका मजाक बनाते हैं। बरखा हंसमुख से बदतमीजी करती है। 

भड़क जाती है अनुपमा 

वनराज हंसमुख के लिए स्टैंड लेते हैं। अंकुश वनराज पर गुस्सा हो जाता है। बरखा और मिसेज मेहता वनराज और हंसमुख से कहते हैं कि वे माफी मांगे। अनुज और अनुपमा पूछते हैं कि क्या मामला है। अनुपमा मेहता और बरखा पर बापूजी की बेइज्जती करने पर भड़क जाती है।  

अनुपमा कहती है कि मिसेज मेहता को उसके पिता से माफी मांगनी होगी। अनुज अनुपमा की तरफदारी करता है। अंकुश मिसेज मेहता की तरफ से माफी मांगता है। अनुपमा अंकुश से कहता है कि मेहता को मांगनी चाहिए। आने वाले एपिसोड में शाह परिवार चला जाएगा। अनुपमा को दुख होता है कि बेइज्जती के कारण उनका परिवार बिना खाना खाए चले गया।

कोई टिप्पणी नहीं