Breaking News

भाजपा शासित राज्यों में पेट्रोल-डीजल सस्ता, तेल के दाम में 15 रुपये तक का अंतर

मुल्क तक न्यूज़ टीम, नई दिल्ली. पेट्रोल-डीजल पर  केंद्र सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी में कटौती कर जो राहत दी गई उससे आम जनता को फायदा मिला, लेकिन अधिकतर राज्यों ने कोई छूट नहीं दी। पिछली बार जब दिवाली से पहले केंद्र सरकार ने उत्पाद कर घटाया था तो कई राज्यों ने वैट में ताबड़तोड़ कटौती की थी, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ। अभी बीजेपी या बीजेपी समर्थित राज्यों और गैरभाजपा सरकारों वाले राज्यों यानी जहां, आप, कांग्रेस या किसी और पार्टी की सरकार है, वहां पेट्रोल-डीजल तुलनात्मक रूप से महंगा है।

अभी भी कुछ गैर भाजपा सरकारों वाले राज्यों में वैट कम न होने से पेट्रोल 100 के पार है। मणिपुर, मध्य प्रदेश, बिहार और कर्नाटक को छोड़ दें तो उन राज्यों में, जहां बीजेपी या एनडीए की सरकार है वहां पेट्रोल 100 रुपये के नीचे है। जबकि, गैरएनडीए सरकारों वाले राज्यों जैसे तमिलनाडु, तेलंगाना, महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में पेट्रोल की कीमत करीब 111 रुपये लीटर तक है।  झारखंड, दिल्ली और पंजाब में पेट्रोल 100 रुपये के नीचे है। 

भारतीय जनता पार्टी या उसके सहयोगियों की सरकारें वाले राज्यों में पट्रोल-डीजल के रेट        

राज्य    पेट्रोल रुपये/लीटर     डीजल रुपये/लीटर

उत्तर प्रदेश    96.57    89.76

उत्तराखंड    95.22    90.26

गोवा    97.68    90.23

मणिपुर    101.18    87.13

त्रिपुरा    99.49    88.44

मध्य प्रदेश    108.65    93.9

बिहार    107.24    94.04

हिमाचल प्रदेश    97.05    83.02

कर्नाटक    101.94    87.89

हरियाणा    96.2    84.26

गुजरात    96.63    92.38

असम    96.01    83.84

अरुणाचल प्रदेश    92.02    89.63

औसत कीमत    98.91    88.82

स्रोत: IOC

अगर गैरबीजेपी और एनडीए की सरकारों वाले राज्यों में पेट्रोल-डीजल के औसत रेट की तुलना करें तो पेट्रोल के रेट में करीब 5 रुपये प्रति लीटर का अंतर है। यानी जिन राज्यों में बीजेपी या एनडीए की सरकार है, वहां पेट्रोल कांग्रेस या गैरएनडीए सरकार वाले राज्यों की तुलना में 5 रुपये प्रति लीटर सस्ता है। यही हाल डीजल का भी है। डीजल के रेट में भी करीब 6 रुपये का अंतर है।

गैरबीजेपी दलों की सरकारों वाले राज्यों में पेट्रोल-डीजल के रेट        

राज्य    पेट्रोल रुपये/लीटर     डीजल रुपये/लीटर

दिल्ली    96.72    89.62

झारखंड    99.84    94.65

छत्तीसगढ़    102.45    95.44

तमिलनाडु    102.63    94.26

केरल    107.71    96.52

पंजाब    96.2    84.26

तेलंगाना    109.66    97.82

महाराष्ट्र    111.35    97.28

राजस्थान    108.48    93.72

आंध्र प्रदेश    109.66    97.82

औसत कीमत    104.47    94.139

स्रोत: IOC

बता दें मोदी सरकार ने शनिवार 21 मई 2022 को आम आदमी को बड़ी राहत देते हुए पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमशः 8 रुपये और 7 रुपये प्रति लीटर की कटौती करने की घोषणा की थी, जिससे पेट्रोल-डीजल के दाम कम से कम 9.5 रुपये और सात रुपये तक गिर गए हैं। केंद्र सरकार की राहत के बाद महाराष्ट्र, राजस्थान एवं केरल ने पेट्रोल-डीजल पर  वैट में कटौती की। महाराष्ट्र ने पेट्रोल पर वैट 2.08 रुपये और डीजल पर 1.44 रुपये प्रति लीटर घटाया तो राजस्थान ने पेट्रोल पर 2.48 रुपये और डीजल पर 1.16 रुपये। जबकि, केरल पेट्रोल पर 2.41 रुपये और डीजल पर 1.36 रुपये कम किया।

दरअसल विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमत के आधार पर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां कीमतों की समीक्षा के बाद रोज़ाना पेट्रोल और डीजल के रेट तय करती हैं। इंडियन ऑयल , भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम रोज़ाना सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की दरों में संशोधन कर जारी करती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं