Breaking News

स्टेशन पर बढ़ी भीड़, सतर्क हुए सुरक्षाकर्मी

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मऊ. एक तरफ गर्मी की छुट्टियां तो दूसरी ओर मांगलिक आयोजनों की बहार ने रेलयात्रियों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि कर दी है। ऐसे में यात्रियों की सुरक्षित यात्रा को लेकर रेलवे की सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। सोमवार सुबह से ही महत्वपूर्ण ट्रेनों के आगमन के समय आरपीएफ एवं जीआरपी के जवान सतर्क हो गए। 

आधा दर्जन से अधिक ट्रेनों में आरपीएफ के जवानों ने सघन तलाशी अभियान चलाया। प्रतीक्षालय में प्रथम दृष्टया संदिग्ध प्रतीत हुए सात यात्रियों को कड़ी पूछताछ कर संतुष्ट होने के बाद ही आगे का सफर करने दिया गया। एक-एक बिदु पर सुरक्षाकर्मियों की कड़ी निगरानी देख यात्रियों में अफरा-तफरी मची रही।

आरपीएफ के प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार सिंह ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से स्टेशन के चप्पे-चप्पे पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। स्टेशन परिसर में एक भी संदिग्ध के नजर आते ही सुरक्षा कर्मियों को अलर्ट कर दिया जा रहा है। सोमवार को लिच्छवी एक्सप्रेस, कृषक एक्सप्रेस, ईएमयू समेत कई ट्रेनों में संदिग्ध यात्रियों के सामानों की तलाशी ली गई। 

इस दौरान ट्रेनों में यात्रा कर रहे लोगों को सतर्कता के मद्देनजर किसी यात्री का दिया हुआ खाद्य पदार्थ हाथ न लगाने तथा पानी से लेकर खाने-पीने की हर सामग्री रेलवे के अधिकृत वेंडर से ही खरीदने के प्रति आगाह किया गया। वहीं, प्रतीक्षालय में आवश्यकता से अधिक सामान लेकर बैठे सात संदिग्ध यात्रियों के एक-एक सामान की जांच की गई। पूछताछ में उनकी ओर से दी गई जानकारी की सत्यता प्रमाणित करने के बाद ही उन्हें आगे सफर करने की इजाजत दी गई। जांच दल में जीआरपी थानाध्यक्ष दीपक कुमार चौधरी, आरपीएफ एसआइ इंद्रजीत यादव, एएसआइ शशिभूषण त्रिपाठी, अर्चना उपाध्याय, एचसी दिनेश द्विवेदी, बाबूराम यादव थे।


कोई टिप्पणी नहीं