Breaking News

Monsoon Kab Tak Aayega; आसमान से बरस रही आग, पारा 45 डिग्री के पार, जानिए कब आएगा मानसून?

मुल्क तक न्यूज़ टीम, अलवर. अप्रैल की शुरूआत में ही गर्मी ने मई-जून जैसा तांडव दिखाना शुरू कर दिया है। उत्तर भारत इन दिनों भीषण गर्मी की चपेट में है। राजस्थान के अलवर में आज अधिकतम तापमान 45.8 डिग्री दर्ज किया गया। देश के बाकी राज्यों में भी रिकार्ड तोड़ गर्मी पड़ रही है। मौसम विभाग के मुताबिक गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और हरियाणा के कई शहरों में तापमान 40 डिग्री के ऊपर दर्ज किया गया। बात करें राजधानी दिल्ली को तो दिल्ली में भी आज दिन का अधिकतम तापमान 40 डिग्री के ऊपर दर्ज किया गया। तेज धूप और गर्म हवाओं ने आम जन-जीवन अस्त व्यस्त कर रखा है।
monsoon kab tak aayega

आसमान से बरस रही आग


कोरोना के चलते पिछले दो साल से बंद स्कूलों को भी हाल ही में खोला गया है। ऐसे में छोटे-छोटे बच्चों को भरी दोपहर में घर लौटना पड़ रहा है। आने वाले दिनों में और गर्मी बढ़ने की उम्मीद है क्योंकि मई-जून में गर्मी अपने चरम पर होती है। हालांकि जुलाई से मौसम बदलने लगता है क्योंकि जून के अंत तक मानसून दस्तक दे देता है और जुलाई के पहले से दूसरे हफ्ते तक मॉनसून की बारिश शुरू हो जाती है।

कब आएगा मानसून? (monsoon kab tak aayega?)

स्काईमेट के मुताबिक 6 अप्रैल तक दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर चक्रवात बनने की संभावना है। अगर ऐसा होता है तो 7 अप्रैल तक दक्षिण बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दवाब वाला क्षेत्र बन जाएगा। मौसम विभाग के मुताबिक इस बार मानसून कमजोर नहीं बल्कि सामान्य रहेगा। बताया जा रहा है कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर नीना बना हुआ है जो आने वाले दिनों में न्यूट्रल हो सकता है। इन दोनों को ही मानसून के लिहाज से अच्छा संकेत माना जाता है।

किसानों के लिए राहत की बात

मौसम विभाग के मुताबिक पिछले दो सालों से मानसून सामान्य रहा है इसलिए इस बार भी मानसून सामान्य रहने की उम्मीद है। किसानों के लिए इस लिहाज से ये अच्छी खबर है क्योंकि खरीफ की खेती पूरे देश में मानसून पर निर्भर करती है। किसान खरीफ की फसल के तौर पर मक्का, धान, सोयाबीन और अरहर की बुआई करता है जिसे अधिक पानी की जरूत होती है और वो कमी बारिश से ही दूर हो सकती है। #MonsoonUpdates

कोई टिप्पणी नहीं