Breaking News

विवाहित सुमित्रा को बनवाया रुखसाना और कर लिया निकाह, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मुल्क तक न्यूज़ टीम, फतेहपुर. यूपी के फ़तेहपुर (Fatehpur News) जिले में धर्मांतरण (Illegal converson) का एक और मामला सामने आया है. यहां एक मुस्लिम युवक पर आरोप है कि वह शादीशुदा महिला को अपने प्रेमजाल में फंसाकर गाज़ियाबाद ले गया और वहां एक मस्ज़िद में महिला का जबरन धर्मांतरण करवाने के बाद उससे निकाह भी कर लिया. पुलिस ने इस मामले में महिला के पति की तहरीर पर केस दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस को आरोपी के पास से एक निकाहनामा भी मिला है, जो गाज़ियाबाद के किसी मस्ज़िद में धर्मांतरण कराने के बाद लिखा गया था. पुलिस को मिले निकाहनामा में दो गवाहों के नाम पता के साथ 5786 रुपये मेहर की रकम का भी जिक्र है. जिसमें महिला सुमित्रा देवी को रुखसाना परवीन का नाम दिया गया है. पुलिस ने महिला का बयान दर्ज करने के बाद आरोपी युवक को जेल भेज दिया और पूरे मामले की तफ्तीश तेज कर दी.

एडिशनल एसपी राजेश कुमार ने बताया कि ललौली कस्बा के रहने वाले शिवकुमार प्रजापति ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि ललौली कस्बा का ही रहने वाला हसन मोहम्मद उर्फ मोनू खान उसकी पत्नी सुमित्रा को बहला-फुसलाकर गाज़ियाबाद ले गया और वहां किसी मस्ज़िद में जबरन धर्मांतरण कराने के बाद उससे निकाह कर लिया है. इस मामले में धर्मांतरण की धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. पुलिस के द्वारा तफ़्तीश की जा रही है.

महिला का जबरन धर्मांतरण और निकाह करने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी हसन मोहम्मद उर्फ मोनू खान को जेल भेजने के बाद अब धर्मांतरण कराने वाले गाज़ियाबाद के मौलाना की भी तलाश तेज कर दी है. मौलाना तक पहुंचने के लिए पुलिस अब धर्मांतरण के आरोपी हसन मोहम्मद को रिमांड पर लेने की तैयारी में जुटी है. इसके साथ ही पुलिस आरोपी से जुड़े अन्य लोगो की भी कुंडली खंगाल रही है.

आपको बता दें धर्मांतरण के आरोप में जेल में बंद मौलाना उमर गौतम फ़तेहपुर जिले के पंथुआ गांव का ही रहने वाला है. उसकी गिरफ्तारी के बाद से जिले में अब तक अवैध धर्मांतरण के 6 मामले सामने आए है. दो मामलों में मौलाना उमर गौतम का भी नाम शामिल था, जिसका खुलासा पूर्व में शहर के नूरुलहुदा इंग्लिश मिडियम स्कूल में पढ़ाने वाली शिक्षिका कल्पना सिंह ने मुकदमा दर्ज कराते हुए किया था. शिक्षिका का आरोप था कि स्कूल में धर्मांतरण की पाठशाला भी चलती है, जिसमे उमर गौतम भी आया करता था.

कोई टिप्पणी नहीं