Breaking News

पूजा बन दूल्हों का शिकार करती थी राबिया; मंडप से उठा ले गई पुलिस

मुल्क तक न्यूज़ टीम, खंडवा. मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में छैगांवमाखन के किसान को ठगने वाली दुल्हन के मामले में एक नया मोड़ आया है । दूल्हे को पूजा बनकर ठगने वाली दुल्हन का असली नाम राबिया है । छैगांवमाखन थाना पुलिस ने एक टीम बनाकर दूल्हे को ठगने वाली दुल्हन और उसकी सहेली को गिरफ्तार कर लिया है।  पुलिस ने इस लुटेरी दुल्हन को उस समय गिरफ्तार किया जब वह महाराष्ट्र के धुले में एक किसान से शादी रचा रही थी।
पुलिस के अनुसार छैगांवमाखन के एक किसान से पूजा बनकर शादी करने वाली दुल्हन दरअसल मुंबई की रहने वाली राबिया है। जिसमें खंडवा के छैगांवमाखन थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाले किसान से शादी की और 4 दिन में ही किसान से एक लाख रुपए ठग कर भाग निकली। पूजा के साथ उसकी एक सहेली नेहा भी उसके साथ आई थी।


राबिया से पूजा बन बनाती थी दूल्हों को निशाना
ठगी की घटना के बाद दूल्हे को ठगकर भागने वाली दुल्हन की छानबीन करने खंडवा के छैगांवमाखन थाने की पुलिस  टीम महाराष्ट्र गई।  टीम ने पहले ठगोरी दुल्हन के दलाल विलासराव को परतवाड़ा से गिरफ्तार किया।  दलाल विलासराव की निशानदेही पर मुंबई के धारावी पहुंची। पुलिस टीम ने पांच दिन तक सादी वर्दी में पूजा के घर पर नजर रखी। इस पुलिस टीम में एएसआई नंदराम वासुरे, हेड कॉन्स्टेबल दिगंबर जाधव ,संजय पाल , संगीता वर्मा और कॉन्स्टेबल शबनम शामिल हैं।

इन सभी ने बारीकी से पड़ताल कर पूजा के माता-पिता की जानकारी निकाली।  पूजा के घर दबिश देने पर पता चला कि पूजा का असली नाम राबिया है। वहीं से पूजा की बहन बनकर साथ आई नेहा का भी पता चला । टीम ने नेहा के घर मानखुर्द मुंबई में दबिश दी और वहां से नेहा को गिरफ्तार कर लिया। तब पुलिस को पता चला कि नेहा भी नाम बदलकर यह काम कर रही थी।  नेहा का असली नाम आशा है।

शादी के मंडप से उठा लाई पुलिस

पुलिस ने आशा उर्फ नेहा को अपनी गिरफ्त में लेकर जब पूछताछ की तो उसमें पूजा यानी राबिया के बारे में बताया कि वह महाराष्ट्र के धुले में एक किसान से शादी कर रही है। इस पर पुलिस टीम तुरंत धुले पहुंची और नेहा की बताई जगह पर जब दबिश दी।  जिस समय दबिश दी गई उस समय पूजा उर्फ राबिया धुले के किसान पवन मोरे से शादी के बंधन में बंधने ही वाली थी।

विवाहवेदी पर बैठी पूजा उर्फ राबिया को महिला कॉन्स्टेबल ने धर दबोचा । जब खंडवा पुलिस में धुले के किसान पवन मौरे को पूजा की पूरी हिस्ट्री बताई तो उसके भी पैरों तले जमीन खिसक गई।  पवन ने भी बताया कि उसने पूजा को एक लाख तीस हजार दिए हैं। पवन ने यह भी कहा कि वो अब इस ठगी की शिकायत अपने पुलिस थाना क्षेत्र में करेगा।

कंपनी टूर का बहाना बनाकर करती थी दूल्हे को ठगने का काम

बता दे की पूजा उर्फ राबिया और नेहा उर्फ आशा दोनों ही बचपन की सहेलियां हैं। यह मुंबई में सेक्स रैकेट में भी शामिल रही है । दोनों के ही परिजनों की मानें तो राबिया और आशा घर पर प्राइवेट कंपनी में जॉब का बहाना कर घर से 10 से 15 दिन तक गायब रहती थी।  दोनों ने अपने घर बताया था कि उन्हें कंपनी के काम से बाहर टूर पर जाना पड़ता है। परिवार वाले यही समझते थे कि यह दोनों कंपनी के टूर पर बाहर गई हैं। जबकि वे लोगों को दुल्हन बनकर ठगने का काम करती थी।

फरवरी में खंडवा के किसान से की थी ठगी

छैगांवमाखन थाना पुलिस ने 12 फरवरी को छैगांवमाखन के कोलाडिट के किसान अंतर सिंह की रिपोर्ट पर दुल्हन बनकर ठगने वाली पूजा उर्फ राबिया के खिलाफ केस दर्ज किया था। जिसमें अब तक पुलिस ने बढ़ियागयासुर के रहने वाले दलाल दुलीचंद, परतवाड़ा के दलाल विलासराव और पूजा की बहन बन कर उसके साथ आई नेहा उर्फ आशा और अब पूजा को भी अपनी गिरफ्त में ले लिया है। पूजा उर्फ राबिया से पूछताछ में और भी कई बड़े खुलासे होने की संभावना है।

पुलिस कर रही पूछताछ


छैगांवमाखन थाने के एएसआई नंदराम वासुरे ने बताया कि मुंबई से दो युवतियों को गिरफ्त में लिया गया है। अभी इस मामले में फरियादी को बुलाकर आरोपियों की तस्दीक की जाएगी। फिलहाल आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही मामले का खुलासा किया जाएगा ।

कोई टिप्पणी नहीं