Breaking News

बेटा मत मारो मुझे, बेटा प्लीज, मैं मां हूं तुम्हारी...और उस कपूत ने चाकुओं से गोद दिया

मुल्क तक न्यूज़ टीम, गुड़गांव. घरेलू कलह और नौकरी न मिलने से परेशान युवक ने चाकू से वार कर अपनी मां की हत्या कर दी। मां रोज की तरह इंजीनियर बेटे को उसके घर खाना देने गई थी। जिसके बाद दोनों रास्ते में पार्क के पास खड़े होकर बात कर रहे थे। इसी दौरान युवक ने चाकू से अपनी मां पर वार किए और फरार हो गया। 66 साल की महिला को इलाज के लिए हॉस्पिटल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

 

शिवपुरी कॉलोनी में ये वारदात गुरुवार रात को हुई। आज इस कपूत औलाद की इस हरकत को सुनकर लोग सकते मे हैं। जरा सोचिए, जो मां हर रोज अपने बच्चे के लिए खाना लेकर जाती हो ताकि वो बेटा भूखा न सोए उसी बेटे ने मां की कोख में चाकू घोंप दिया। ये सोचकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं कि जिस वक्त वो अपनी मां की जान ले रहा होगा उस वक्त मां यहीं कहते नहीं थक रही होगी कि बेटा क्यों मार रहे हो, मुझे मत मारों मैं मां हूं तुम्हारी...

मां-बाप से दूर रहता था बेटा
रेलवे से चीफ बुकिंग सुपरवाइजर पद से 2013 में रिटायर हो चुके रणवीर कुमार भंडारी ने बताया कि उनका बेटा मनीष भंडारी बीटेक के बाद एक नामी कंपनी में नौकरी करता था। बेटे मनीष और उसकी पत्नी श्वेता घरेलू कलह के चलते अलग हुए और श्वेता अपने बेटे के साथ सेक्टर-81 की सोसायटी में रहती है। लॉकडाउन के दौरान मनीष की नौकरी छूट गई। सितंबर 2021 को वह अपने माता-पिता को छोड़ कॉलोनी में ही दूसरे मकान में रहने लगा जो इनके घर से थोड़ा दूर है।


हर रोज मां खाना लेकर उसको देने जाती थी
मनीष का खाना उसकी मां वीणा ही रोज देने जाती थीं। अब मनीष किराये पर कहीं और रहने की बात कर रहा था। रोज की तरह गुरुवार रात करीब साढ़े 8 बजे वीणा अपने बेटे को खाना देने गईं। काफी देर तक वह नहीं आईं तो पति देखने गए। तब शिवपुरी कॉलोनी में शिव वाटिका के पास पार्क के सामने वीणा और मनीष खड़े बात कर रहे थे। बुजुर्ग महिला ने पति को कहा कि हम बात कर रहे हैं, आप घर जाओ। रणवीर अपने घर के बाहर आकर बैठ गए। इसी दौरान शोर सुनकर लोग इकट्ठा होने लगे। रणवीर पार्क के पास पहुंचे तो उनकी पत्नी लहूलुहान हालत में जमीन पर पड़ी थी और मनीष वहां से जा चुका था। फिर लोगों की मदद से महिला को पहले पास के निजी हॉस्पिटल और फिर सिविल हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

सीसीटीवी में दिखी वारदात
सूचना मिलते ही न्यू कॉलोनी थाना से पुलिस टीम भी मौके पर पहुंची। पास के एक मकान की सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चेक की गई। जिसमें दिखा कि मनीष ने ही अपनी मां पर अचानक चाकू से हमला कर दिया। उसने उन्हें जमीन पर गिराया और फिर चाकू से कई वार किए। जिसके बाद फरार हो गया। फुटेज में दिखा कि युवक जब अपनी मां को जमीन पर गिराकर चाकू मार रहा था तो वहां एक स्कूटी सवार भी आया लेकिन महिला को बचाने की बजाय वह पीछे हट गया। फिर इंजीनियर के भागने के बाद वह स्कूटी यहां से भगा ले गया। उसने रुककर महिला की मदद करना भी जरूरी नहीं समझा।

कोई टिप्पणी नहीं