Breaking News

CM योगी आदित्यनाथ का निर्देश- समय से कार्यालय आएं सभी सरकारी कर्मी, दिखे अनुशासन

मुल्क तक न्यूज़ टीम, लखनऊ. उत्तर प्रदेश में लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री पद संभालने वाले योगी आदित्यनाथ को अनुशासन के साथ कोई समझौता बर्दाश्त नहीं है। उन्होंने मंगलवार को इसका संकेत भी दे दिया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोक भवन में टीम-09 के साथ बैठक के दौरान सभी विभागाध्यक्षों को निर्देश भेजा है कि सभी सरकारी कार्यालय में अनुशासन को शीर्ष वरीयता पर रखा जाए।
 
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी शासकीय कार्यालयों में अनुशासन का माहौल बना रहना आवश्यक है। इसके लिए बेहद जरूरी है कि हर रोज सभी अधिकारी/कर्मचारी समय से कार्यालय आएं। इसके साथ ही साथ सभी जगह पर यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं पर भी भोजनावकाश आधा घंटे से अधिक न हो। सभी कार्यालयों में भोजनावकाश पूरा होने के बाद सभी कार्मिक पुन: अपने कार्यस्थल पर उपस्थित रहें। सीएम योगी आदित्यनाथ के इस निर्देश के बाद सरकारी कार्यालयों में लंच टाइम के दौरान कर्मचारियों के लंबे समय तक गायब रहने पर अब ब्रेक लगेगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया और कहा कि कहीं पर भी लंच टाइम आधे घंटे से ज्यादा का न हो। लंच टाइम में कर्मियों के गायब रहने के संदर्भ में मुख्यमंत्री कार्यालय को शिकायत मिली थी।


टेंडर प्रक्रिया में भाग ना लें डीपीआर तैयार करने वाली संस्था : मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी जगह शुचिता और पारदर्शिता के दृष्टिगत यह सुनिश्चित कराया जाए कि पीडब्ल्यूडी या फिर ग्रामीण अभियंत्रण आदि विभागों में विभिन्न परियोजनाओं के लिए डीपीआर तैयार करने वाली संस्था किसी परियोजना के क्रियान्वयन/निर्माण आदि के लिए होने वाली टेंडर प्रक्रिया में भाग नहीं लें। इस संबंध में स्पष्ट व्यवस्था लागू की जाए।

अस्थाई तौर पर नियुक्त लोगों के भविष्य पर भी होगा विचार : सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसके साथ ही कहा कि प्रदेश में कोरोना महामारी के दौरान अस्पतालों में कार्य करने वाले कार्मिकों की सेवाभावना प्रेरणास्पद है। अस्थायी तौर पर नियुक्त किये गए ऐसे कार्मिकों के भविष्य की सुरक्षा के दृष्टिगत विभागों में उचित प्रबंध किए जाएं। इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुफ्त खाद्यान्न वितरण का कार्य सुचारु रूप से जारी रखने का भी निर्देश दिया है। एक भी पात्र परिवार राशन से वंचित न रहे।

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे तैयार: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश को अतिशीघ्र बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का नया उपहार मिलने जा रहा है। इसके उद्घाटन कार्यक्रम के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली जाएं। इसके साथ ही साथ गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के काम में तेजी लाए जाने की अपेक्षा है।

युवाओं को डिजिटल शक्ति : सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि युवाओं को डिजिटल शक्ति प्रदान करने के उद्देश्य से राज्य सरकार छात्र-छात्राओं को टैबलेट तथा स्मार्टफोन उपलब्ध करा रही है। इसके वितरण का यह कार्यक्रम सभी जगह पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में हो। टैबलेट/स्मार्टफोन के बेहतर प्रयोग के लिए आवश्यकतानुसार प्रशिक्षण की व्यवस्था भी कराई जानी चाहिए।

सुचारू रूप से हो गेहूं खरीद: सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में गेहूं खरीद की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी गेहूं क्रय केंद्रों पर व्यवस्था सुचारु बनी रहे। सभी जगह जिलाधिकारी स्वयं क्रय केंद्रों का निरीक्षण करें। जिलों में नोडल अधिकारी एक्टिव रहें। इसके साथ ही किसानों को भुगतान में देरी न हो।

18 से 23 तक विशेष स्वास्थ्य मेला:
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में प्रदेश के सभी विकास खंडों में विशेष स्वास्थ्य मेलों का आयोजन किया जाए। 18 से 23 अप्रैल की अवधि में आयोजित इन मेलों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति भी रहे।

जिलों में हो 75-75 तालाबों की खोदाई :
मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में सभी 75 जनपदों में 75-75 तालाबों की खुदाई/पुनरोद्धार कराया जाए। इससे भूमिगत जल रीचार्ज और बेहतर हो सकेगा। तालाबों का चिन्हीकरण शीघ्रता से करते हुए इस संबंध में कार्रवाई शुरू कर दी जाए।

कोई टिप्पणी नहीं