Breaking News

बिहार में बड़ा हादसा: शादी की रस्‍म निभा रही 8 महिलाओं को बेकाबू ट्रक ने कुचला, 4 की मौत

मुल्क तक न्यूज़ टीम, सारण. मशरक-मलमलिया मुख्य पथ एसएच- 73 पर दुमदुमा में शुक्रवार को देर रात निकाह की रस्‍म अदायगी कर रही आठ महिलाओं को बेकाबू ट्रक ने कुचल दिया। घटनास्थल पर ही तीन महिलाओं की मौत हो गई। एक की मौत इलाज के दौरान हो गई। कई अन्‍य घायल हैं। उन्‍हें आनन-फानन में  स्‍थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। घायलों की स्थिति नाजुक देख बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल छपरा भेज दिया गया। 

घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने मशरक-मलमलिया मुख्य पथ एसएस 73 को जाम कर दिया। आवागमन पूरी तरह बाधित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष राजेश कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंच मामले की जांच-पड़ताल में जुट गए। लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं थे। करीब छह घंटे बाद सुबह साढ़े चार बजे लोगों ने जाम हटाया।

तीन की घटनास्‍थल पर ही मौत 

मृतका मशरक थाना क्षेत्र के दुमदुमा गांव निवासी रोजादिन मियां की 50 वर्षीय पत्नी सैरुल बीबी, भोला मियां की 47 वर्षीय पत्नी नजमा बीबी एवं बनियापुर थाना क्षेत्र के हरपुर कराह निवासी नाजिम मियां की 50 वर्षीय पत्नी शैसा बेगम हैं। वहीं मोनाजा खातून की मौत इलाज के दौरान हो गई। घायलों में मशरक थाना क्षेत्र के दुमदुमा गांव के लुकमान मियां की 50 वर्षीय पत्नी खैरा बीबी, लियाकत हुसैन की 40 वर्षीय पत्नी नूरजहां खातून, गोपालगंज जिले के महम्मदपुर थाना क्षेत्र के हाकाम गांव निवासी मोहम्मद जैनुद्दीन की 35 वर्षीय पत्नी शाहजहां खातून शामिल हैं।

एक महिला ने अस्‍पताल में तोड़ दम

स्‍वजनों  ने बताया कि निकाह के लिए बरात गई थी। इसके बाद घर के आगे महिलाएं कुछ रस्‍म पूरी कर रही थीं। इसी दौरान आया अनियंत्रित ट्रक महिलाओं को कुचलता चला गया। इसके बाद चीखपुकार मच गई। घटनास्‍थल पर तीन महिलाओं ने दम तोड़ दिया। घायल एक महिला अस्‍पताल में जिंंदगी की जहंग हार गई। चार महिलाएं घायल हैं। सुबह में जाम समाप्‍त होने के बाद पुलिस ने शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया।

कोई टिप्पणी नहीं