Breaking News

पूर्वांचल और बिहार के रेल यात्रियों को बड़ी राहत, होली स्पेशल ट्रेनों में शुरू हुई जनरल टिकट पर यात्रा

मुल्क तक न्यूज़ टीम, गोरखपुर. अब वे होली स्पेशल ट्रेनों में जनरल टिकट पर यात्रा कर सकेंगे। लोगों की सुविधा के लिए रेलवे प्रशासन ने होली स्पेशल ट्रेनों में जनरल टिकट पर यात्रा की छूट दे दी है। अभी तक सिर्फ आरक्षित टिकट पर ही यात्रा की अनुमति थी। जल्द ही नियमित ट्रेनों में जनरल टिकट की अनुमति मिलनी शुरू हो जाएगी।

रेलवे बोर्ड ने लिया अहम निर्णय, नियमित ट्रेनों में आरक्षित टिकट ही मान्य

मंगलवार को गोरखपुर से मुंबई जाने वाली दो होली स्पेशल ट्रेनों में जनरल टिकट पर ही लोगों ने यात्रा शुरू की। 05403 नंबर की गोरखपुर-बांद्रा स्पेशल 25 मार्च और गोरखपुर-हैदराबाद होली स्पेशल 27 मार्च को रवाना होगी। इन ट्रेनों में जनरल टिकट मान्य हैं। इसके अलावा 01022 नंबर की होली स्पेशल एक्सप्रेस 26, 29 मार्च व दो अप्रैल को गोरखपुर से वाराणसी के रास्ते लोकमान्य तिलक टर्मिनस जाएगी। जानकारों के अनुसार अभी रूट के आधार पर ही जनरल टिकट जारी किए जा रहे हैं।

दिल्ली व मुंबई जाने वाली स्पेशल ट्रेनों के जनरल कोच में कर सकते हैं जनरल टिकट पर यात्रा

किराया कोविड काल के पूर्व का ही लग रहा है। यानी, किराये में कोई अंतर नहीं है। दरअसल, होली पर्व के दौरान यात्रियों की भीड़ बढ़ गई है। लोग दिल्ली, पंजाब और गुजरात से किसी तरह घर तो पहुंच गए हैं लेकिन वापसी मुश्किल हो गई है। ट्रेनों का कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा। कुछ ट्रेनों में तो नो रूम (टिकटों की बुकिंग बंद) हो गया है। ऐसे में जनरल टिकट पर यात्रा की अनुमति लोगों को राहत प्रदान करेगी। 

यहां जान लें कि कोविड काल के बाद एक जून 2020 से स्पेशल के रूप में ट्रेनों का संचालन तो शुरू हो गया लेकिन जनरल टिकटों पर रोक लगा दी गई। एसी और स्लीपर के अलावा जनरल श्रेणी के टिकट भी आरक्षित मिलने लगे। अभी भी लंबी दूरी की नियमित एक्सप्रेस ट्रेनों में आरक्षित टिकट ही मान्य है। हालांकि, रेलवे प्रशासन ने नियमित ट्रेनों में भी जनरल टिकट की अनुमति देने की तैयारी शुरू कर दी है। जल्द ही नियमित ट्रेनों में भी जनरल टिकट मान्य हो जाएंगे।

दो गुना हो गई जनरल टिकटों की बिक्री

गोरखपुर जंक्शन स्थित काउंटरों पर जनरल टिकटों की बिक्री बढ़ गई है। होली के पहले जहां तीन से चार हजार टिकट बिक रहे थे, अब सात से आठ हजार की बिक्री होने लगी है। नियमित ट्रेनों में भी जनरल टिकट की अनुमति मिलने के बाद यह आंकड़ा 20 हजार से पार कर जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं