Breaking News

यूपी के राज्‍य कर्मचारियों और पेंशनरों को योगी सरकार का बड़ा तोहफा, मिलेगा फ्री इलाज

मुल्क तक न्यूज़ टीम, लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जल्द ही प्रदेश में करीब 28 लाख राज्य कर्मचारियों और पेंशनरों व उनके आश्रितों को कैशलैस चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. इसके लिए योगी सरकार अनुपूरक बजट में धनराशि की व्यवस्था कर सकती है. योगी सरकार द्वारा इस योजना का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलैस चिकित्सा योजना दिया गया है. इसके लिए सभी कर्मचारियों और पेंशनरों आश्रितों  को स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराई जाएगी.

राज्य सरकार द्वारा इस योजना में सरकारी सेवकों और पेंशनर व उनके आश्रितों को वित्त पोषित चिकित्सालयों, चिकित्सा विश्वविद्यालयों, मेडिकल कॉलेजों और स्वशासी चिकित्सा महाविद्यालयों से संबद्ध चिकित्सालयों में नि:शुल्क उपचार प्रदान किया जाएगा. बता दें कि इसके साथ ही प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना से जुड़े निजी अस्पतालों में भी पांच लाख तक मुफ्त में  उपचार की सुविधा मिल सकेगी. इस सुविधा के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में 100 करोड़ का कार्पस फंड होगा. इससे विभाग के अन्य अस्पतालों को अग्रिम उपलब्ध कराया जाएगा. साथ ही इन चिकित्सालयों को 50 फीसदी का उपयोगिता प्रमाणपत्र देने पर अगली किस्त भी  उपलब्ध कराई जाएगी.

हालांकि एसजीपीजीआई लखनऊ, डा. राममनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ, उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय सैफई, केजीएमयू लखनऊ और अन्य सरकारी संस्थानों में उपचार के लिए अब कर्मचारी को पांच प्रतिशत धनराशि खुद वहन नहीं करनी होगी. वहीं संबंधित चिकित्सा संस्थान के चिकित्सा अधीक्षक द्वारा सत्यापित इलाज के कागजात को मुख्य चिकित्साधिकारी से तकनीकी परीक्षण कराना भी अब जरूरी नहीं होगा. इस नई व्यवस्था के अलावा कर्मचारी को जरूरत पड़ने पर मौजूदा व्यवस्था के तहत भी इलाज करा सकेंगे. 

कोई टिप्पणी नहीं