Breaking News

कर्नाटक में बारिश से अबतक 24 लोगों की मौत, 24-25 को केरल और तमिलनाडु में भारी बारिश का अलर्ट

MulkTak News Team, नई दिल्ली. कर्नाटक में भारी बारिश से जान माल का काफी नुकसान हुआ है। बारिश के बाद कई जगहों पर सड़कों पर जलभराव देखने को मिल रहा है। राज्य मे बारिश के कारण अबतक 24 लोगों की जान जा चुकी है। इसके अलावा 5 हेक्टेयर से अधिक भूमि पर फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई है। राज्य सरकार ने कहा है कि बारिश की वजह से 658 घर पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए है, 8 495 घर आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं, जबकि 119 मवेशियों के बह जाने से काफी नुकसान हुआ है।

वहीं, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने अगले 5 दिनों के दौरान कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में बारिश का अलर्ट जारी किया है। आइएमडी ने ट्वीट कर बताया,' अगले 5 दिनों के दौरान कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में हल्की से मध्यम वर्षा होगी, जबकि 24 और 25 नवंबर को तमिलनाडु और पुडुचेरी में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।

रविवार को मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बारिश से प्रभावित इलाकों का दौरा किया। उन्होंने पीड़ित परिवारों को तत्काल राहत प्रदान करने का आदेश दिया। कर्नाटक के चिक्कबल्लापुर जिले के बारिश प्रभावित क्षेत्रों के अपने दौरे के बाद मुख्यमंत्री ने किसानों के लिए मुआवजे की घोषणा की है। राज्य के विभिन्न हिस्सों में लगातार बारिश से हुए नुकसान का आकलन सरकार आंकलन कर रही है।

सूत्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री ने एनडीआरएफ फंड के तहत जिला कलेक्टरों के पास उपलब्ध 689 करोड़ रुपये की राशि के अलावा आवश्यक पड़ेने पर अधिक धनराशि का प्रावधान सुनिश्चित करने को कहा है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने सभी स्तरों पर कृषि विभाग के अधिकारियों को फसल नुकसान का सर्वेक्षण करने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने लंबित 79000 किसानों के मुआवजे के भुगतान के लिए 79 करोड़ रुपये जारी करने के भी निर्देश दिए। अगस्त और सितंबर में लगातार बारिश के कारण 3.43 लाख हेक्टेयर में फसल प्रभावित हुई थी, जिससे 1.5 लाख किसान प्रभावित हुए थे। सरकार ने उनके लिए 130 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं। मुख्यमंत्री ने मकान गंवाने वालों के लिए राहत की पहली किस्त के रूप में एक लाख रुपये तत्काल जारी करने का भी निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में लगातार बारिश से हुए नुकसान की समीक्षा के लिए अपने गृह कार्यालय कृष्णा में बैठक की। सूत्रों के मुताबिक, बारिश से बेंगलुरू शहर, बेंगलुरु ग्रामीण, तुमकुरु, कोलार, चिक्काबल्लापुर, रामनगर, हासन जिले में व्यापक नुकसान हुआ है। लगभग 2203 किमी सड़कें क्षतिग्रस्त हो गईं जिनमें 165 पुल शामिल हैं। लगातार बारिश से 1225 स्कूलों और 39 जन स्वास्थ्य केंद्रों को भी नुकसान पहुंचा है। बैठक में क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत का कार्य भी युद्धस्तर पर करने भी आदेश दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं