Breaking News

Cyclone Tauktae: 26 लोग अभी भी लापता, नौसेना ने बचाव अभियान किया तेज; मुंबई तट पर रवाना डाइविंग टीम

मुल्क तक न्यूज़ टीम, मुंबई. चक्रवात तूफान 'टाक्टे' ने कई शहरों में अपना कहर बरपाया है। इस दौरान काफी संख्या में लोगों की जान गई तो कई लापता हो गए। लापता हुए लोगों को ढूंढने के लिए खोजी अभियान तेज कर दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अभी भी 26 लोग लापता हैं। चक्रवात तूफान के 6 दिन बाद बचाव कार्यों को बढ़ावा देने के लिए नौसेना ने शनिवार को मुंबई तट पर डाइविंग टीम (diving teams) को तैनात किया है। नौसेना के एक प्रवक्ता ने ट्वीट करते हुए बताया कि  बजरा पी305 (Barge P305) और टग वरप्रदा (Tug Varaprada) के लापता चालक दल को खोजने के लिए स्पेशल डाइविंग टीम को आइएनएस मकर पर साइड-स्कैन सोनार और आइएनएस तरासा के साथ तैनात किया गया है। आज सुबह ही इस टीम को रवाना किया गया है।

सोमवार को अरब सागर में डूबे जहाज P305 पर मरने वालों की संख्या 60 हो गई है। फिलहाल 11 और लोगों की तालाश जारी है। अधिकारियों ने बताया कि इस तूफान के चलते लापता हुए लोगों की बचने की आशा कम हो गई है। नौसेना की मानें तो बेहद खराब मौसम से जूझते हुए उसके जवानों ने बजरा पी305 पर मौजूद 273 लोगों में से अब तक 184 को बचा लिया है। दो अन्य बजरों तथा एक ऑयल रिग पर मौजूद सभी लोग सुरक्षित हैं। नौसेना के उप प्रमुख वाइस एडमिरल मुरलीधर सदाशिव पवार ने कहा था कि यह बीते चार दशक में सर्वाधिक चुनौतीपूर्ण तलाश एवं बचाव अभियान है।


बता दें कि ये बजरे चक्रवात टाक्‍टे के गुजरात तट से टकराने से कुछ घंटे पहले मुंबई के पास अरब सागर में फंस गए थे। नौसेना के एक प्रवक्ता ने बताया था कि  बुधवार सुबह तक पी305 पर मौजूद 184 कर्मियों को बचा लिया गया है। आइएनएस कोच्चि और आइएनएस कोलकाता इन लोगों को लेकर मुंबई बंदरगाह लौटे। आइएनएस तेग, आईएनएस बेतवा, आईएनएस ब्यास, पी81 विमान और हेलीकॉप्टरों की मदद से तलाश एवं बचाव अभियान जारी है।


कोई टिप्पणी नहीं