Breaking News

Delhi Weather ALERT! दिल्ली-NCR के कई इलाकों में धूल का गुबार, दृश्यता में कमी से लोगों को रही परेशानी

मुल्क तक न्यूज़ टीम, नई दिल्ली. टाक्टे तूफान और पश्चिमी विक्षोभ का असर भले ही खत्म हो गया हो, लेकिन दिल्ली में गर्मी के तेवर अभी भी नरम ही हैं। राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में रविवार सुबह धूल का गुबार देखा गया। इसकी वजह से अक्षरधाम, डीएनडी समेत कई जगहों पर दृश्यता में कमी आई है। वहीं, रेवाड़ी में भी धूल का गुबार देखा गया। सुबह उठते ही लोगों को लगा एक बार ऐसा लगा मानो धुंध छाई हुई हो, लेकिन यह गहरी धूल की चादर है। दमा के रोगियों के लिए यह धूल संकट खड़ा करेगी। ऐसे में रोगियों को घर के अंदर रहने में ही फायदा है।

मौसम विभाग के मुताबिक रविवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। अगले 24 घंटों में तेज हवा चलने के साथ दिनभर बादलों और सूरज की लुकाछिपी जारी रहेगी। कुछ जगहों पर गर्जन वाले बादल बनने के साथ हल्की बौछार पड़ सकती है। आज अधिकतम तापमान 37 और न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किए जाने का अनुमान है।


इससे पहले शनिवार अलसुबह बारिश हुई। शनिवार को दिन में भी बादलों व सूरज के बीच लुकाछिपी चलती रही। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अभी अगले चार पांच दिन और तापमान 40 डिग्री से ऊपर नहीं जाएगा।


मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार को दिल्ली में अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम 35.1 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से नौ डिग्री कम 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बारिश की वजह से न्यूनतम तापमान में अधिक कमी देखने को मिली। यही वजह रही कि सुबह के समय लोगों को हल्की ठंडक महसूस हुई। हालांकि दिन में सूरज के दर्शन हुए, लेकिन तेवरों से कड़कपन गायब था। सुबह साढ़े आठ बजे तक दिल्ली के विभिन्न इलाकों में 18.6 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई। हवा में नमी का स्तर 41 से 100 फीसद दर्ज किया गया। सुबह साढ़े आठ बजे तक सबसे अधिक बारिश दिल्ली एनसीआर में शामिल गुरुग्राम में 44 मिलीमीटर रिकार्ड की गई ।


इसके अलावा पालम में 21.8 मिमी, लोधी रोड में 22.6 मिमी, आया नगर में 34.6 मिमी, नजफगढ़ में 15.5 मिमी और मयूर विहार में 11 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई।


कोई टिप्पणी नहीं