Breaking News

अगले 24 घंटों में बहुत गंभीर तूफान में बदल जाएगा चक्रवात यास, बंगाल में तेज बारिश

मुल्क तक न्यूज़ टीम, नई दिल्ली. चक्रवाती तूफान के खतरा को देश के पूर्वी तटों पर मंडरा रहा है। पश्चिम बंगाल और ओडिशा में इस भीषण तूफान के दस्तक देने की भविष्यवाण की गई है।  मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 24 घंटे में यार बहुत गंभीर तूफान में बदल जाएगा। 26 मई को यास के ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटों से टकराने की संभावना है। मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि इस दौरान 155 से 165 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवा चलने की उम्मीद है जो 185 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार तक पहुंच सकती है। 

चक्रवात से लोगों को सुरक्षित रखने के लिए तमाम तरह की तैयारियां पहले से की गई हैं। तटों के पास रहने वाले लोगों को घरों से निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।  नैसेना, राष्ट्रीय आपदा दल समेत तमाम टीमें बचाव कार्य के लिए तैयार हैं। इसके अलावा गृह मंत्रालय ने चक्रवात से प्रभावित होने वाले राज्यों को आश्र्वासन दिया है कि मंत्रालय उनकी सहायता 24 घंटे तैयार रहेगा। 


Cyclonic Yaas live update:


-ओडिशा के भुवनेश्वर में चक्रवात यास के कारण बारिश


-बंगाल में भारी बारिश को देखते हुए डीजी एनडीआरएफ एसएन प्रधान ने कहा कि यहां  एनडीआरएफ की 10 और टीमें तैनात राज्य में कुल 45 टीमें तैनात हैं


-पश्चिम बंगाल: दीघा में तेज़ हवाएं और बारिश हो रही है।


-मौसम विभाग ने कहा है कि चक्रवाती तूफान यास 26 मई की दोपहर बालासोर के आसपास पारादीप और सागर द्वीप के बीच उत्तर ओडिशा-पश्चिम बंगाल तटों को पार कर सकता  है।


-चक्रवात यास के खतरे को देखते हुए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने तटीय क्षेत्रों में रहने वाले लोगों से स्थानीय प्रशासन के साथ सहयोग करने और चक्रवात आश्रयों में स्थानांतरित करने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने लोगों से COVID-19 प्रोटोकॉल का पालन करने और दो मास्क पहनने के लिए भी कहा।


-ओडिशा के चांदीपुर में देखी गई बारिश, 26 मई को तटों से टकराएगा चक्रवाती तूफान यास


-चक्रवात यास से पहले जगतसिंहपुर जिले में स्थानीय लोगों को उनके घरों से आश्रय गृहों में पहुंचाया गया। पारादीप के संधाकुड से लक्ष्मी ने कहा, "पिछले चक्रवात के दौरान, मेरे परिवार ने सब कुछ खो दिया। हम सौभाग्य से बच गए। मैं अपने पति, बेटी और उनके बच्चों के साथ यहां आई हूं।"

कोई टिप्पणी नहीं