Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की 10 बड़ी बातें

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कोरोना को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक समीक्षा बैठक की। इस बैठक में मुख्यमंत्रियों ने अपने-अपने राज्यों की स्थिति की जानकारी पीएम को दी। इस दौरान प्रवासी मजदूरों को लेकर भी चर्चा हुई। बैठक के दौरान पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ने कोरोना के समय राजनीति से परहेज की बात भी की।
बैठक से पहले केन्द्र सरकार ने रविवार को यह साफ कर दिया था कि कंटेनमेंट ज़ोन में गाइडलाइंस का कड़ाई से पालन सुनिश्चित हो। साथ ही कोरोना संक्रमण वाले इलाकों की साफ तौर पर घेराबंदी की जाए। मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री की बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ कई कैबिनेट मंत्री भी मौजूद रहे। 

आइए जानते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की बड़ी बातें:

1. बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया का कहना है कि हम सफलतापूर्वक कोरोना के खिलाफ इस पूरी लड़ाई में लड़ रहे हैं। इसमें राज्य सरकारों ने अहम भूमिका निभाई है। सभी सरकारों ने अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में अपनी भूमिका निभाई है।

2. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने शुरू से इस बात पर जोर दिया कि जो जहां हैं वहीं रहें। लेकिन घर जाना मानव का स्वभाव होता है, इसलिए हमने अपना निर्णय बदला। इसके बावजूद, हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि यह बीमारी गांवों में नहीं फैले। यही हमारे लिए बड़ी चुनौती है।

3. बैठक में मौजूद गृह मंत्री अमित शाह ने आरोग्य सेतु मोबाइल एप के महत्व पर प्रकाश डाला और मुख्यमंत्रियों से इसके डाउनलोड को लोकप्रिय बनाने के लिए आग्रह किया, क्योंकि इससे वायरस के प्रसार पर नज़र रखने में मदद मिलेगी।

4. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव इस बात पर आशंका जाहिर की है कि ट्रेन सेवा की शुरुआत होने पर कोरोना संक्रमण फैल सकता है और स्क्रीनिंग करना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा, “हम पूरी तरह से स्थिति का मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। ट्रेन सेवा की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। हम चाहते हैं कि केन्द्र पर्याप्त रणनीति तैयार करे और ट्रेन सेवा को रोका जाना चाहिए।”

5. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक में तमिलनाडु ने एनएचएम फंड जल्द से जल्द जारी करने की मांग करते हुए राज्य के लिए 2000 करोड़ रुपये की विशेष मदद और लंबित पड़ी जीएसटी की राशि जारी करने के लिए कहा।

6. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने पीएम मोदी के साथ बैठक के दौरान कहा कि राज्य में करीब 30 हजार लोगों को अतिसंवेदनशील मानकर उनकी जांच की गई। हालात सामान्य करने की जरूरत है। कोरोना पॉजिटिव परिवार सामाजिक बहिष्कार का सामना कर रहे हैं।

7. सीएम रेड्डी ने कहा कि लोगों से यह अपील की है कि वे सेल्फ आइसोलेशन के लिए आगे आएं। हमें लोगों को वैक्सीन के तैयार होने तक इस कोरोना वायरस के साथ जीने के लिए तैयार करना होगा। हमें वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए व्यापक तौर पर जागरूक करना होगा।

8. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के दौरान कहा, 'एक राज्य के तौर पर हमले कोरोना संक्रमण से लड़ने में अपना बेहतर कर रहे हैं। केन्द्र को इस मुश्किल घड़ी में राजनीति नहीं करनी चाहिए।'

9. ममता ने कहा कि हम अंतरराष्ट्रीय सीमाओं और अन्य बड़े राज्यों घिरे हुए हैं और इसका सामना करना चुनौतीपूर्ण है। उन्होंने कहा कि सभी राज्यों को बराबर का महत्व मिलना चाहिए और हमें टीम  इंडिया की तरह काम करना चाहिए।

10. गुजरात के मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन को कंटेनमेंट जोन तक ही सीमित रखा जाना चाहिए। सुरक्षात्मक उपायों के साथ आर्थिक गतिविधियों को शुरू करने के साथ ही और गर्मी छुट्टी के बाद स्कूल- कॉलेजों को खोलने और सार्वजनिक परिवहन को धीरे से शुरू करना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं