Breaking News

सोनू सूद ने अब यूपी के प्रवासी मजदूरों को बसों के जरिए पहुंचाया घर

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। लॉकडाउन का बुरा असर दिहाड़ी मजदूरों पर पड़ा है। काम ना होने की वजह से सभी मजदूर अपने घर जाना चाहते हैं और ऐसे में उनकी मदद करने के लिए सोनू सूद आगे आए हैं। सोनू ने कुछ दिनों पहले प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए महाराष्ट्र के ठाणे से कर्नाटक के गुलबर्गा के लिए 10 बसें भेजी थीं।
वहीं इस बार उन्होंने उत्तर प्रदेश के मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए लिए कई बसें भेजी हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने एहतियात के तौर पर राज्य की सभी सीमाओं को सील कर रखा है। तो सोनू ने अपनी एक दोस्त की मदद से सरकार से अनुमति ली है जिसके बाद मुंबई के वडाला से उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों और झारखंड और बिहार जैसे राज्यों के लिए शनिवार को सोनू ने करीब एक दर्जन बसें रवाना कराई। 

सोनू ने खुद सभी मजदूरों को रवाना किया है। सभी मजदूर अपने घर जाने के लिए काफी उत्साहित थे, लेकिन साथ ही उन्होंने सोनू को शुक्रिया भी कहा।

हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान सोनू ने कहा, यह मेरा कर्तव्य है कि मैं प्रवासी मजदूरों की मदद करूं जो हमारे देश के दिल की धड़कन हैं। हम देख रहे हैं कि कैसे मजदूर अपने परिवार और बच्चों को लेकर पैदल ही घर के लिए निकल रहे हैं। हम एसी में बैठकर सिर्फ ट्वीट नहीं कर सकते। हमें उनकी मदद करनी होगी। मैं सुबह से लेकर शाम तक इनकी मदद के लिए काम कर रहा हूं। मुझे उनकी मदद करके जो संतुष्टि मिलती है उसे मैं शब्दों से बयां नहीं कर सकता।

कोई टिप्पणी नहीं