Breaking News

पंजाब में कल से होगी शराब की होम डिलीवरी, सिर्फ 4 घंटे ही खुलेंगी दुकानें

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लागू लॉकडाउन के तीसरे चरण में शराब की बिक्री को लेकर पंजाब सरकार ने अहम फैसला लिया है। अब पंजाब में लोग घर बैठे शराब मंगवा सकेंगे।
पंजाब सरकार कल से (गुरुवार) शराब की होम डिलीवरी कराने जा रही है। हालांकि, इस दौरान राज्य में शराब की दुकानें भी खुली रहेंगी। यह दुकाने सिर्फ सुबह नौ बजे से लेकर दोपहर एक बजे तक, चार घंटे के लिए खुलेंगी।

वहीं, छत्तीसगढ़ सरकार ने भी शराब की होम डिलीवरी कराने के लिए एक पोर्टल लॉन्च किया है। शराब की दुकानों पर लग रही भारी भीड़ को देखते हुए राज्य सरकार ने यह कदम उठाया। इसके जरिए लोग घर बैठे शराब मंगवा सकेंगे। हालांकि, यह सर्विस उन्हीं लोगों के लिए उपलब्ध होगी, जो ग्रीन जोन में हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि छत्तीसगढ़ के ग्रीन जोन वाले लोग सीएसएमसीएल मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करके शराब का ऑर्डर ऑनलाइन कर सकेंगे। वेबसाइट के जरिए से भी ऑर्डर किया जा सकेगा। इसके लिए 120 रुपये डिलीवरी चार्ज अतिरिक्त देने होंगे।

बता दें कि चार मई से शराब की बिक्री की अनुमति मिलने के बाद कई राज्यों में एक दिन में ही करोड़ों रुपये की शराब बिक चुकी है। उत्तर प्रदेश में पहले दिन तकरीबन 100 करोड़ रुपये की शराब बिकी। इसके अलावा कर्नाटक में पहले दिन 45 करोड़ रुपये की शराब की बिक्री हुई थी।

मुंबई में शराब की दुकानों को बंद करने का फैसला
मुंबई के रेड जोन वाले इलाकों में शराब की दुकानों पर भारी भीड़ और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ते देखने के बाद लॉकडाउन के तीसरे चरण में राज्य सरकार की तरफ से एक दिन पहले जो छूट शराब समेत गैर जरूरी दुकानों खोलने की दी गई थी उसे बीएमसी ने मुंबई से मंगलवार को वापस ले लिया है। बीएमसी कमिश्नर प्रवीण परदेशी ने को सर्कुलर जारी करते हुए कहा कि सिर्फ किराना और मेडिकल स्टोर्स को ही खुलने की इजाजत रहेगी।

उत्तराखंड में शराब पर कोरोना सेस की तैयारी
वहीं, उत्तराखंड में भी शराब पर कोरोना सेस लगाने की तैयारी हो गई है। कल (गुरुवार) को होने वाली कैबिनेट बैठक में प्रस्ताव लाया जा रहा है। शराब की हर बोतल पर कितने प्रतिशत कोरोना सेस लगाया जाए, इस पर अंतिम फैसला कैबिनेट लेगी। इससे पहले दिल्ली सरकार ने शराब पर 70 प्रतिशत कोरोना सेस लगाया है।

कोई टिप्पणी नहीं