Breaking News

सावधान : लोनी में प्रवेश किया तो 14 दिन के लिए होंगे क्वारंटाइन

लोनी। अगर किसी ने दिल्ली से लोनी सीमा में प्रवेश किया तो उसे 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया जाएगा। प्रशासन ने लोनी के चारों जोन में एक-एक क्वारंटाइन सेंटर बना दिया है।
डीएम ने लोनी को कोरोना से बचाने के लिए सेक्टरों की संख्या आठ से बढ़ाकर 21 कर दी है। जबकि जोन चार ही रहेंगे। गुरुवार दोपहर जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने लोनी तहसील कार्यालय ने एडीएम प्रशासन संतोष कुमार, एसडीएम खालिद अंजुम खान, तहसीलदार प्रकाश सिंह, नगर पालिका ईओ शालिनी गुप्ता, सीओ लोनी राजकुमार पांडेय एवं चारों थाने के प्रभारियों के साथ बैठक की। इसमें लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने एवं बाहरी व्यक्ति को लोनी में आने से रोकने के लिए सेक्टरों की संख्या आठ से बढ़ाकर 21 कर दी गई है। अब चारों थानों की प्रत्येक चौकी क्षेत्र सेक्टर होगा। जबकि गुरुवार से चारों जोन एवं सेक्टर क्रियान्वित हो गए हैं।

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि दिल्ली से किसी भी व्यक्ति को लोनी सीमा में प्रवेश की अनुमति नही दी जाएगी। अगर लोनी का कोई व्यक्ति दिल्ली में काम करता है और रोजाना आवागमन करता है उसे दिल्ली अथवा लोनी में से एक स्थान पर रहना होगा। लोनी में प्रवेश की अनुमति नही होगी। अगर किसी बाहरी व्यक्ति ने लोनी सीमा में प्रवेश किया तो उसे 14 दिन क्वारंटाइन कर दिया जाएगा।

एक दिन में 155 वाहनों के चालान : एसडीएम खालिद अंजुम खान ने बताया कि गुरुवार से लोनी के चारों जोन एवं सभी 21 सेक्टर क्रियान्वित हो गए हैं। पहले दिन 155 वाहनों के चालान काटे गए हैं। जबकि 10 हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया है।

उद्यमियों और कर्मचारियों को हो रही परेशानी
लोनी क्षेत्र में कोरोना संक्रमण फैलने के बाद प्रशासन द्वारा गुरुवार से पूरे क्षेत्र में सेक्टर व्यवस्था लागू की गई है। इससे लोनी, ट्रोनिका सिटी, साहिबाबाद और गाजियाबाद में उद्योग चलाने वाले सैकड़ों उद्यमी परेशान हैं। क्योंकि सैकड़ों की संख्या में उद्यम से जुड़े लोग गाजियाबाद आते-जाते हैं। इससे पहले बीते सप्ताह दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर सील कर देने से परेशानी हुई थी।

सभी कोरोना पॉजिटिव दिल्ली से संबंधित
एसडीएम खालिद अंजुम खान ने बताया कि अभी तक लोनी में करीब 20 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए है। ये सभी मामले दिल्ली से संबंधित हैं। लोनी से किसी को कोरोना नही हुआ है। लोगों की जांच के लिए निजी चिकित्सकों से सहयोग लिया जाएगा। शुक्रवार को निजी चिकित्सकों के साथ बैठक कर दिशा निर्देश दिए जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं