Breaking News

क्या दिल्ली सरकार कोरोना के आंकड़े छुपा रही है? जानें इसकी सच्चाई

नई दिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार कोरोना वायरस से संबंधित कोई आंकड़ा नहीं छुपा रही है। जैन ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता कपिल मिश्रा के आरोप और मीडिया में इस संबंध में आई रिपोर्टों को पूरी तरह खारिज तो नहीं किया, लेकिन कहा कि कोरोना को लेकर सरकार कोई तथ्य नहीं छुपा रही है।
दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री मिश्रा ने आरोप लगाया था कि दिल्ली सरकार कोरोना से मरने वालों की संख्या कम बता रही है और मीडिया रिपोर्टों में भी मृतकों की संख्या छिपाने की बात कही गई थी।

जैन ने मीडिया से बातचीत में कहा कि हम मरीजों का आंकड़ा नहीं छुपा रहे। कोरोना का कोई पॉजिटिव केस आता है तो उसे कोई छुपा नहीं सकता। रिपोर्ट आने के बाद केंद्र और राज्य सरकार दोनों को बताना होता है। आंकड़े छिपाने होते तो दिल्ली में एक दिन पहले रिकॉर्ड 448 केस के बारे में जानकारी क्यों देते?  

उन्होंने कहा कि संबंधित अस्पतालों से जानकारी मांगी गई है। रिपोर्ट मिलने के बाद इसकी जानकारी दे दी जाएगी। उधर, दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 338 नए मामले सामने आए और कुल संक्रमित 6328 हो गए। गुरुवार को रिकॉर्ड 448 मामले आए थे। शुक्रवार को दो मरीजों की मृत्यु से वायरस से मरने वालों की संख्या 68 हो गई। इससे पहले चार दिनों में संक्रमण से किसी की मृत्यु नहीं हुई थी। पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड 89 मरीज ठीक हुए और वायरस से स्वस्थ होने वालों की संख्या 2020 हो गई। राजधानी में कोरोना के फिलहाल 4230 सक्रिय मामले हैं जिनमें से 91 आईसीयू और 17 वेंटिलेटर पर हैं।

कोई टिप्पणी नहीं