Breaking News

देश में 24 घंटे में कोरोना के 3900 से ज्यादा केस, 195 लोगों की मौत: स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली। पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से जूझ रही है। दुनियाभर में अब तक कोरोना से 33 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं तो वहीं अब तक दो लाख से अधिक लोगों की मौत हो गई है। भारत में भी कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है, कोरोना को लेकर नियमित प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के सबसे ज्यादा केस आए हैं और सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं, उन्होंने कहा कि इस दौरान 195 लोगों की जान गई है और 3900 से ज्यादा मामले सामने आए हैं, साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि कोरोना का रिकवरी रेट बढ़कर 27.41 फीसदी हो गया है।

लव अग्रवाल ने कहा कि सरकार विदेश में फंसे भारतीय को वापस लाएगी, उन्हें लाने की प्रक्रिया 7 मई से शुरू होगी. विदेश से आए इन लोगों को 14 दिनों तक क्वारनटीन में रहना होगा, दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा, एक दुकान पर 5 से ज्यादा लोग जमा ना हों, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि एक-दो जगहों पर काफी संख्या में मौतें हुई हैं, इस वजह से मौत की संख्या में तेजी आई है, कुछ राज्यों से समय पर कोरोना के आंकड़ो की रिपोर्ट प्राप्त हुई है इस कारण भी मृत्यु के आंकड़ों में बढ़ोत्तरी देखी गई है। संक्रमण देश के 26 राज्यों में फैला है कोरोनावायरस का संक्रमण देश के 26 राज्यों में फैला है। 6 केंद्र शासित प्रदेश भी इसकी चपेट में हैं। इनमें दिल्ली, चंडीगढ़, अंडमान-निकोबार, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और पुडुचेरी शामिल हैं। राजस्थान स्वास्थ्य विभाग के अनुसार राज्य में कोरोना वायरस के आज 66 नए मामले सामने आए हैं और 5 लोगों की मौत हो गई है। राज्य में मरीजों की संख्या 3,127 हो गई है और 82 लोगों की मौत हो गई है। 1,581 लोगों का इलाज जारी है तो वहीं उत्तराखंड में एक और कोरोना वायरस के मामले की पुष्टि हो गई है। राज्य में मरीजों की संख्या 61 हो गई है और 39 लोग ठीक हो गए हैं। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जानकारी दी है। 

शारीरिक दूरी हमारी लिए सबसे बड़ी वैक्सीन- स्वास्थ्य मंत्री 
स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि जब तक कोई वैक्सीन नहीं आती है तब तक शारीरिक दूरी हमारी लिए सबसे बड़ी वैक्सीन है। दिल्ली में कुछ छूटें दी गई है, इसका ये मतलब नहीं कि हम शारीरिक दूरी का पालन नहीं करें। हम लोगों से बार-बार अपील कर रहे हैं कि आप मास्क लगाए और शारीरिक दूरी का पालन करें।


कोई टिप्पणी नहीं