Breaking News

यूपी में कोरोना संक्रमित मरीजों की सबसे कम मृत्यु दर

लखनऊ। कोरोना महामारी से जूझ रहे पूरे प्रदेश के लिए यह राहत की खबर है कि प्रदेश सरकार के कारगर कदमों की वजह से कारोना संक्रमित मरीजों की मृत्यु दर अन्य राज्यों की तुलना में काफी कम है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि कोरोना से सबसे ज्यादा संक्रमित आठ बड़े राज्यों में से प्रदेश में मृत्यु दर सबसे कम है। इस मामले में प्रदेश पहले स्थान पर है।  
सबसे ज्यादा मृत्यु दर 9.75 फीसदी पश्चिम बंगाल की है। यानि 100 कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों में से  औसतन नौ मरीजों  की मौत हो रही है। यूपी में मृत्यु दर केवल 2 फीसदी है।  यह स्थिति तब है जब कि इन सात  राज्यों से कहीं ज्यादा प्रदेश की आबादी है। प्रदेश में अब तक 3 हजार 265 मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुक हैं और यहां मरीजों की मृत्यु 66 हुई है।

राज्य                                    मृत्यु दर %
पश्चिम बंगाल-                      9.75
दिल्ली             -                      8.10
गुजरात           -                       6.06
मध्यप्रदेश      -                        5.93
महाराष्ट्र        -                         3.86
राजस्थान      -                         2.90
आंध्र प्रदेश     -                        2.17
उत्तर प्रदेश      -                        2.02

रिकवरी में भी अव्वल है यूपी:
चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद का कहना है कि प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का ठीक होकर घर वापस जाने का भी औसत राष्ट्रीय औसत से काफी अधिक है।  कोरोना वायरस के मरीजों के ठीक होकर डिस्चार्ज होने का राष्ट्रीय औसत 30 फीसदी है। जबकि प्रदेश का औसत 43 फीसदी है। अब तक यहां प्रदेश में 1399 मरीज ठीक होकर घर वापस जा चुके हैं। जबकि कोरोना वायरस से ज्यादा संक्रमित महाराष्ट्र का औसत 18.37 फीसदी और दिल्ली का 32.29 फीसदी है। गुजरात का 24.37 फीसदी ही है।

कोई टिप्पणी नहीं