Breaking News

कोरोना से दुनियाभर में हाहाकार, जिंदगी की जंग हारे तीन लाख लोग

नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना वायरस भयानक रूप ले चुका है। हाल यह है कि इससे संक्रमित लोगों की मौत का वैश्विक आंकड़ा तीन लाख के पार हो गया। अब तक इस महामारी की चपेट में 44.85 लाख से ज्यादा लोग आ चुके हैं। गुरुवार रात तक विश्व में कुल 44,89,482 लोग संक्रमित हो चुके हैं जिनमें से मरने वालों की संख्या 3,01,024 हो गई। हालांकि इनमें से 16,88,943 लोग इलाज के बाद ठीक भी हो चुके हैं।
अमेरिका में मृतक 85 हजार से ज्यादा : दुनिया के सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में 14,40,427 मरीजों में से 85,991 को जान गंवानी पड़ी जबकि 3,11,721 लोग ठीक होकर घर लौट गए। 

यूरोप में संक्रमित 17 लाख के पार : अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा कहर यूरोप के देशों पर पड़ा है। पूरे यूरोप में अब तक 17,17,334 लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 1,58,672 की मौत हो गई है। महाद्वीप में सर्वाधिक मामले स्पेन में 2,72,646 हैं जिनमें से 27,321 की मृत्यु हो चुकी है। हालांकि, इस मामले में 33,614 मौतों के साथ ब्रिटेन, अमेरिका के बाद दुनिया में दूसरे नंबर पर है। वहां अब तक 2,33,151 मरीज सामने आए हैं। यूरोप में तीसरे नंबर पर मौजूद इटली में 2,23,096 मामलों में से 31,368 मरीजों की मौत हो चुकी है। फ्रांस और जर्मनी भी यूरोप में संक्रमण के मामलों में काफी प्रभावित हुए हैं।

रूस तीसरे नंबर पर : रूस भी लगातार संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण दुनिया में तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बन चुका है। वहां पिछले करीब दो सप्ताह में लगातार मरीजों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। हाल यह है कि अब तक रूस में 2,52,245 संक्रमित मरीजों का पता चला है। हालांकि वहां मौतों की दर अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है।यहां अभी तक 2,305 लोगों को जान गंवानी पड़ी है जबकि 53,530 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। राजधानी मास्को में पिछले 24 घंटे में 58 नई मौतें सामने आईं जिससे मृतकों की संख्या बढ़कर 1290 हो गई है। मास्को के कोरोना केंद्र ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

ब्राजील ने फ्रांस को पछाड़ा : लातिन अमेरिकी देश ब्राजील में हाल के दिनों में लगातार नए संक्रमित सामने आने से अब तक वहां 1,96,375 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं और 13,555 लोगों को जान गंवानी पड़ी है। ब्राजील अब जर्मनी और फ्रांस जैसे देशों को हटाकर सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की सूची में छठे नंबर पर पहुंच गया है।

कोई टिप्पणी नहीं