Breaking News

CBSE : 9वीं और 11वीं कक्षा में फेल होने वाले छात्रों को मिलेगा एक और मौका

नई दिल्ली। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन 9वीं और 11वीं में फेल होने वाले छात्रों को एक बार और पास होने का मौका देगा। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते छात्रों में बढ़ते तनाव को देखते हुए सीबीएसई ने यह फैसला किया है। 
सीबीएसई के लेटेस्ट नोटिफिकेशन के अनुसार, 9वीं या 11वीं कक्षा में फेल होने वाले छात्रों के लिए उनके स्कूल एक बार और टेस्ट ले सकते हैं। यह टेस्ट ऑनलाइन और ऑफलाइन छात्र की सुविधा के अनुसार दोनों माध्यमों से होगा। जिस विषय में छात्र फेल होगा उस विषय का टेस्ट लेने से पलहे फेल छात्र को तैयारी के लिए पर्याप्त समय दिया जाएगा। 

सिर्फ इसी साल मिलेगा दोबारा परीक्षा देने का मौका-
सीबीएसई ने कहा कि वर्तमान के नाजुक हालातों को देखते हुए परीक्षा में पास होने का एक और मौका सिर्फ इसी साल दिया जाएगा। यह सुविधा सिर्फ एक बार के लिए है आगे इसको जारी नहीं रखा जाएगा। सीबीएसई ने 13 मई को जारी नोटिफिकेशन में कहा कि कोरोना संकट के कारण छत्र और पैरेंट्स तनाव में हैं। पैंरेंट्स को वेतन, घरवालों की सेहत आदि को लेकर चिंता है। ऐसे कठिन समय में 9वीं और 11वीं छात्रों को फेल होने पर एक और मौका दिया जाएगा। इस बात लेकर लगातार छात्र और पैरेंट्स सीबीएसई से अपनी चिंताएं जाहिर कर रहे थे और सवाल पूछ रहे थे।

छात्रों और पैरेंट्स की रिक्वेस्ट को ध्यान में रखते हुए इस संकट की घड़ी में सीबीएसई ने तय किया है कि कक्षा 9, 11 में फेल होने वाले छात्रों को उनके स्कूल में एक बार और टेस्ट देकर पास होने का मौका दिया जाएगा। यह टेस्ट स्कूल में ही लिया जाएगा। इन दोनों कक्षाओं में फेल होने वाले छात्रों को हर हाल में मौका दिया जाएगा भले ही परीक्षा का परिणाम जारी हो गया हो या परीक्षाएं हो चुकी हों या न हुई हों। यह सुविधा कुछ  विषयों में फेल होने पर दी जाएगी।

सीबीएसई ने स्पष्ठ किया है कि छात्रों को पास होने के लिए यह एक और मौका कोरोना (COVID-19) महामारी को ध्यान में रखते हुए दिया जा रहा है। सीबीएसई ने ट्वीट करते हुए इस बात की जानकारी दी कि केंद्रीय एचआरडी मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सीबीएसई के सभी स्कूलों को सलाह दी है कि वे फेल होने वाले नौवीं और ग्यारहवीं के छात्रों को एक और मौका दें।

कोई टिप्पणी नहीं