Breaking News

जल्द आ रहा Bharat eMarket, अमेजन और फ्लिपकार्ट को देगा तगड़ी टक्कर

नयी दिल्ली। बहुत जल्द दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनियों अमेजन और फ्लिपकार्ट के लिए भारत में कारोबारी मुकाबला और कड़ा होना वाला है। दरअसल कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (सीएआईटी) ने जल्द ही 'Bharat eMarket' लॉन्च करने का ऐलान किया है। भारत ईमार्केट सभी खुदरा व्यापारियों के लिए एक राष्ट्रीय ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस प्लेटफॉर्म होगा। सीएआईटी कई तकनीकी कंपनियों के साथ मिलकर पोर्टल लॉन्च करेगी। भारत ईमार्केट के 1 महीने के अंदर लॉन्च होने की उम्मीद जतायी जा रही है। बता दें कि नेशनल मार्केटप्लेस खुदरा कारोबारियों को एंड-टू-एंड सर्विस देने के लिए विभिन्न तकनीकी कंपनियों की क्षमताओं को इंटीग्रेट करेगी। भारत ईमार्केट के जरिए आपको सामान की घर पर डिलिवरी मिलेगी। साथ ही ये मैन्युफैक्चर्स से कस्टमर तक रिटेल लॉजिस्टिक्स और सप्लाई चेन को भी सपोर्ट करेगा। कुल मिला कर भारत ईमार्केट एक नेशनल ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म होगा, जहां आप अपनी जरूरत के सामान बिलकुल वैसे ही खरीद सकेंगे जैसे आप अमेजन या फ्लिपकार्ट से खरीदते हैं।

देश भर के कारोबारी होंगे शामिल
भारत मार्केट ई-कॉमर्स पोर्टल में देश भर के खुदरा कारोबारियों की भागीदारी शामिल होगी। इस प्लेटफॉर्म का उद्देश्य कम से कम 95 प्रतिशत खुदरा व्यापारियों को शामिल करना होगा, जो विशेष रूप से इस पोर्टल को चलाएंगे। यानी इस पूरे नेटवर्क का संचालन भारत के स्थानीय खुदरा कारोबारियों के हाथ में होगा। ऑल इंडिया ट्रेडर्स बॉडी इस ई-मार्केटप्लेस पर 2020 में लगभग एक करोड़ रिटेलर्स को शामिल करने और इसे दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे अनोखा ई-मार्केटप्लेस बनाने पर ध्यान दे रही है।

नये ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म की फैसिलिटी
भारत मार्केट से कोरोनावायरस के कारण देश में लगे लॉकडाउन के दौरान उपभोक्ताओं को उनके दरवाजे पर आवश्यक वस्तुएं मिलेंगी। यानी ये प्लेटफॉर्म जरूरी चीजों को हासिल करने में एक प्रभावी भूमिका निभाएगा। सबसे खास बात ये होगी इस प्लेटफॉर्म को वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय का एक्टिव समर्थन और मार्गदर्शन मिलेगा। दरअसल ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार जोरदार कदम उठी रहा है, खासकर लॉकडाउन अवधि के दौरान।

पहले भी की है सरकार ने कोशिश
यह भारतीय बाजार को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ले जाने का सरकार का पहला प्रयास नहीं है। इससे पहले अप्रैल 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने राष्ट्रीय कृषि बाजार के लिए ई-ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म 'ई-एनएएम' (e-NAM) पोर्टल लॉन्च किया था। पूरे देश में मंडियों को एक प्लेटफॉर्म पर लाने और किसानों को इस पोर्टल का उपयोग करके कृषि उत्पादों को ऑनलाइन बेचने और खरीदने के लिए ये पोर्टल लॉन्च किया गया था। हाल ही में पोर्टल के साथ लगभग 200 नई मंडियों को जोड़ा किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं