Breaking News

कोरोना से जंग में जुटे अस्थाई कर्मियों को झारखंड सरकार ने दी बड़ी सौगात

रांची. कोरोना से जंग में जुटे निजी अस्पतालों के कर्मचारी, अनुबंधकर्मी, दैनिक मजदूर और आउटसोर्स कर्मियों का भी 50 लाख का बीमा होगा। इनके अलावा इस काम में जुटे सेवानिवृत स्वैच्छिक कर्मी, शहरी निकायों के कर्मचारी, 108 एंबुलेंसकर्मी, एडहॉक पर काम करने वाले लोगों को भी यह सुविधा मिलेगी। डब्ल्यूएचओ, यूनिसेफ और यूएनडीपी के कर्मचारी भी इसमें शामिल होंगे। 
सरकारी स्वास्थ्य प्रदाताओं और सामुदायिक स्वास्थ्यकर्मियों को भी यह सुविधा मिल रही है। कोरोना के इलाज और उसके रोकथा में लगे होने के कारण ये मरीजों के सीधे संपर्क में आते हैं और इनके काम में जोखिम होता है। इनकी संख्या लगभग 22.12 लाख होगी। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी ने सोमवार को इस बाबत सभी उपायुक्तों एवं सिविल सर्जनों को पत्र लिखा है।इसमें उन्होंने कहा है कि स्वास्थ्य मंत्रालय से प्राप्त पत्र केआलोक में ऐसे कर्मियों को 30 मार्च 2020 के प्रभाव से 90 दिनों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत 50 लाख के जीवन बीमा से आच्छादित किया  गया है।

कोई टिप्पणी नहीं